1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. आग लगने से 30,000 कम गाड़ियों का हुआ उत्पादन, डबल डिजिट ग्रोथ हासिल करने का लक्ष्य: मारुति

आग लगने से 30,000 कम गाड़ियों का हुआ उत्पादन, डबल डिजिट ग्रोथ हासिल करने का लक्ष्य: मारुति

मारुति ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए उसका डबल डिजिट ग्रोथ का लक्ष्य पटरी पर है। हालांकि, जून में मानेसर में में आग लगने की वजह से उत्पादन को नुकसान हुआ।

Dharmender Chaudhary Dharmender Chaudhary
Published on: July 07, 2016 17:12 IST
Maruti: आग लगने से 30,000 कम गाड़ियों का हुआ उत्पादन, डबल डिजिट ग्रोथ हासिल करने का लक्ष्य- India TV Paisa
Maruti: आग लगने से 30,000 कम गाड़ियों का हुआ उत्पादन, डबल डिजिट ग्रोथ हासिल करने का लक्ष्य

कोलकाता। मारुति सुजुकी इंडिया ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए उसका डबल डिजिट ग्रोथ का लक्ष्य पटरी पर है। हालांकि, जून में मानेसर में कंपनी की महत्वपूर्ण वेंडर इकाई में आग लगने की वजह से उसे 30,000 इकाई का उत्पादन नुकसान हुआ था।

कंपनी के कार्यकारी निदेशक आर एस कल्सी ने नए प्लैटिनम रेटेड शोरूम वन आटो का कोलकाता में उद्घाटन करने के मौके पर अलग से कहा, हमें जो भी उत्पादन का नुकसान हुआ है अगले कुछ माह में हम उसकी भरपाई कर लेंगे, क्योंकि हमारे उत्पादन इंजीनियर इस बात पर काम कर रहे हैं कि उत्पादन कैसे बढ़ाया जाए। कंपनी को जहां 30,000 इकाई का उत्पादन नुकसान हुआ, वहीं संयंत्र में इसका कुल प्रभाव चार सप्ताह का रहा।

कंपनी के विटारा ब्रेजा तथा बलेनो माडलों के लिए इंतजार की अवधि अब बढ़कर 5 से 7 महीने हो गई है क्योंकि इन कारों के लिए वेटलिस्ट एक लाख इकाई के आंकड़े को पार कर गई है। मानेसर और गुड़गांव के अलावा कंपनी गुजरात मेंढाई लाख इकाई क्षमता का तीसरा संयंत्र लगा रही है। कल्सी ने कहा कि इस संयंत्र के लिए परीक्षण जनवरी-मार्च, 2017 के दौरान किया जाएगा और उत्पादन उसकी अगली तिमाही से शुरु होगा। कंपनी के अधिकारी ने हालांकि यह नहीं बताया कि इस नए संयंत्र में किन माडलों का उत्पादन होगा।

यह भी पढ़ें- मारुति की घरेलू बिक्री जून में 10.2 फीसदी घटी, कल-पुर्जा बनाने वाले संयंत्र में आग लगने से पड़ा असर

यह भी पढ़ें- Coming Soon: भारतीय कार बाजार में तहलका मचाने की तैयारी में Maruti, लॉन्‍च करेगी ये 5 बेहतरीन मॉडल

Write a comment