1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Time to cut Subsidy: सालाना आय 10 लाख रुपए से है ज्‍यादा, तो नहीं मिलेगा सस्‍ता LPG सिलेंडर!

Time to cut Subsidy: सालाना आय 10 लाख रुपए से है ज्‍यादा, तो नहीं मिलेगा सस्‍ता LPG सिलेंडर!

केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि सरकार उन उपभोक्ताओं की LPG सब्सिडी खत्‍म करने पर विचार कर रही है, जिनकी सालाना आय 10 लाख रुपए से ज्‍यादा है।

Surbhi Jain [Updated:15 Nov 2015, 12:42 PM IST]
Time to cut Subsidy: सालाना आय 10 लाख रुपए से है ज्‍यादा, तो नहीं मिलेगा सस्‍ता LPG सिलेंडर!- India TV Paisa
Time to cut Subsidy: सालाना आय 10 लाख रुपए से है ज्‍यादा, तो नहीं मिलेगा सस्‍ता LPG सिलेंडर!

नई दिल्‍ली। यदि आपकी सालाना आय 10 लाख रुपए से ज्‍यादा है तो आपको  एलपीजी (LPG) सिलेंडर पर सब्सिडी नहीं मिलेगी। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार उन उपभोक्ताओं की LPG सब्सिडी खत्‍म करने पर विचार कर रही है, जिनकी सालाना आय 10 लाख रुपए से ज्‍यादा है।

केंद्रीय शहरी विकास और संसदीय कार्य मंत्री नायडू ने कहा कि पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने मुझे बताया कि सरकार को कई अवैध गैस कनेक्शनों के बारे में पता चला है और वह उन उपभोक्ताओं को गैस की आपूर्ति रोककर हजारों करोड़ रुपए बचा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार यह योजना भी बना रही है कि 10 लाख रुपए से अधिक सालाना आय वाले उपभोक्ताओं को गैस सब्सिडी नहीं दी जाएगी। उन्हें सब्सिडी की क्या जरूरत है। मंत्रियों को सब्सिडी की क्या जरूरत है। अब तक 30 लाख लोग एलपीजी सब्सिडी छोड़ चुके हैं। गरीब जनता को वह सब्सिडी दी जाएगी।

सब्सिडी के लिए आय सीमा तय करने का समय आ गया है : प्रधान 

वहीं दूसरी ओर उपभोक्ताओं से एलपीजी, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस से जुड़ी सब्सिडी छोड़ने की अपील करते हुए पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धमेंद्र प्रधान ने शनिवार को फि‍र दोहराया कि अब समय आ गया है कि सरकार को सब्सिडी के मुद्दे पर विचार करना चाहिए। प्रधान ने कहा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ने मुझसे यह पूछा कि क्या एलपीजी सब्सिडी प्राप्त करे वाले उपभोक्ताओं के लिए आय सीमा तय किए जाने पर विचार करने का समय आ गया है। मैंने उनसे कहा कि इस पर विचार करने की जरूरत है।

15,000 करोड़ रुपए की हुई बचत

प्रधान ने कहा कि एलपीजी सब्सिडी के लिए डायरेक्‍ट बेनेफि‍ट ट्रांसफर शुरू करने के बाद से पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान सरकार को 15,000 करोड़ रुपए की बचत हुई है। प्रधान ने कहा कि तीन करोड़ नकली एलपीजी कनेक्शन खत्म किए गए, जिससे यह बचत हुई है।
उन्‍होंने यह भी कहा कि सरकार जरूरतमंद तबके को सब्सिडी मुहैया कराने के लिए एलपीजी की तरह केरोसिन पर भी सीधे सब्सिडी मुहैया कराने की योजना बना रही है।

Web Title: 10 लाख से ज्‍यादा वार्षिक आय वालों को नहीं मिलेगी LPG सब्सिडी
Write a comment