1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. किसानों को साल भर नियमित आय देने के लिए ITC कर रही है काम, शुरू किया एक नया प्रोग्राम

किसानों को साल भर नियमित आय देने के लिए ITC कर रही है काम, शुरू किया एक नया प्रोग्राम

सिगरेट से लेकर एफएमसीजी क्षेत्र की दिग्‍गज आईटीसी लिमिटेड देश में किसानों को साल भर नियमित आय सुनिश्चित करने के लिए 10 लाख से अधिक किसानों के साथ मिलकर काम कर रही है।

Edited by: India TV Paisa Desk [Published on:27 Jul 2018, 5:00 PM IST]
ITC Chairman- India TV Paisa
Photo:ITC CHAIRMAN

ITC Chairman

नई दिल्‍ली। सिगरेट से लेकर एफएमसीजी क्षेत्र की दिग्‍गज आईटीसी लिमिटेड देश में किसानों को साल भर नियमित आय सुनिश्चित करने के लिए 10 लाख से अधिक किसानों के साथ मिलकर काम कर रही है। कंपनी ने चुनिंदा क्षेत्रों में बारह महीने हरियाली नामक एक प्रोग्राम भी शुरू किया है।

आईटीसी लिमिटेड के चेयरमैन वाई सी देवेश्‍वर के मुताबिक इस प्रोग्राम ने उत्‍साजनक परिणाम दिए हैं। बारह महीने हरियाली प्रोग्राम में गेहूं और कम अवधि वाले धान की उच्‍च-उत्‍पादकता वाली वैरायटी, जलवायु अनुसार कृषि प्रथाएं, शून्‍य जुताई जो समय पर बुवाई करे, और फसल अवशेष को जलाने में कमी लाने के साथ अन्‍य प्रयासों को शामिल किया गया है।  

वैल्‍यू-एडेड फसलों, जिसमें अमरूद और जामुन शामिल हैं, को इस प्रोग्राम के तहत उगाया जाता है। नए उत्‍पाद जैसे समर मूंग को भी इस प्रोग्राम में शामिल किया गया है। उदाहरण के लिए, उत्‍तर प्रदेश के चार जिलों में एक पायलेट प्रोग्राम के तहत लगभग 2 लाख किसानों को इसमें शामिल किया गया है।  

कंपनी की 107वीं वार्षिक आम सभा में बोलते हुए देवेश्‍वर ने कहा कि यह जानकार खुशी होगी कि लगभग 30,000 किसान, जिन्‍होंने इंटीग्रेटेड प्रोग्राम के सभी तत्‍वों को अपनाया है, उनकी आय दोगुनी हो गई है। इसके अलावा जिन्‍होंने आंशिक रूप से प्रोग्राम को लागू किया, उनकी आय 30 से 75 प्रतिशत के बीच बढ़ी है।

कंपनी के सूत्रों के मुताबिक इस प्रोग्राम को उत्‍तर प्रदेश के पिछड़े 10 जिलों में लागू किया जाएगा। उत्‍तर प्रदेश के अलावा, इस प्रोग्राम को छह से आठ अन्‍य राज्‍यों में भी लागू किया जाएगा। बिहार अगला राज्‍या होगा, जहां इस प्रोग्राम को लागू किया जाएगा।  

Web Title: किसानों को साल भर नियमित आय देने के लिए ITC कर रही है काम, शुरू किया एक नया प्रोग्राम
Write a comment