1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर हुई 103.5 करोड़, BSNL फिर आई पांचवे स्थान पर

देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर हुई 103.5 करोड़, BSNL फिर आई पांचवे स्थान पर

जून अंत तक मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या 103.5 करोड़ पहुंच गई। बीएसएनएल फिर से शीर्ष पांच टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स कंपनियों में शामिल हो गई है।

Abhishek Shrivastava [Published on:10 Sep 2016, 11:54 AM IST]
देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर हुई 103.5 करोड़, BSNL फिर आई पांचवे स्थान पर- India TV Paisa
देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर हुई 103.5 करोड़, BSNL फिर आई पांचवे स्थान पर

नई दिल्ली। देश में इस साल जून अंत तक मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या 103.5 करोड़ पहुंच गई है। वहीं सार्वजनिक क्षेत्र की बीएसएनएल फिर से शीर्ष पांच टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स कंपनियों में शामिल हो गई है।

टेलीकॉम नियामक ट्राई ने कहा कि जून के अंत तक देश में मोबाइल और लैंडलाइन उपभोक्ताओं की कुल संख्या 105.98 करोड़ हो गई है, जो मई 2016 में 105.8 करोड़ थी। यह क्षेत्र में मासिक आधार पर 0.17 फीसदी की वृद्धि को दिखाता है। अपनी मासिक रिपोर्ट में ट्राई ने कहा कि इसी के साथ जून अंत तक देश में दूरंसचार घनत्व (आबादी के अनुपात में फोन कनेक्शन) बढ़कर 83.20 हो गया है, जो मई में 83.14 था। ट्राई ने कहा कि देश में मोबाइल यूजर्स की संख्या में 0.19 फीसदी की वृद्धि देखी गई और मई 2016 के 103.3 करोड़ से बढ़कर जून 2016 के अंत तक यह 103.5 करोड़ हो गई।

इसी तरह लैंडलाइन के ग्राहकों की संख्या जून में घटकर 2.47 करोड़ हो गई, मई में यह संख्या 2.48 करोड़ थी। कंपनियों की दृष्टि से भारती एयरटेल के मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या में 14 लाख नए ग्राहक जुड़े हैं और उसके ग्राहकों की कुल संख्या 25.57 करोड़ पर पहुंच गई है। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी बीएसएनएल नए उपभोक्ता जोड़ने में दूसरे स्थान पर रही है और इसने 13 लाख नए ग्राहक जोड़े हैं। इस प्रकार उसके ग्राहकों की कुल संख्या 8.95 करोड़ हो गई। इसी के साथ वह एयरसेल को पछाड़ते हुए देश की पांचवी प्रमुख कंपनी के स्थान पर वापस लौट आई, जो उससे अप्रैल 2015 में छिन गया था। इस सूची में 19.94 करोड़ ग्राहकों के साथ वोडाफोन, 17.62 करोड़ ग्राहकों के साथ आइडिया भी शामिल हैं।

Web Title: मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या बढ़कर हुई 103.5 करोड़
Write a comment