1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान भारत में बिके रिकॉर्ड 4.66 करोड़ स्‍मार्टफोन, शाओमी रही नंबर वन

जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान भारत में बिके रिकॉर्ड 4.66 करोड़ स्‍मार्टफोन, शाओमी रही नंबर वन

आईडीसी के क्वाटरली मोबाइल फोन ट्रैकर के मुताबिक शाओमी ने इस तिमाही में सबसे ज्यादा 1.26 करोड़ स्मार्टफोन बेचे हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: November 11, 2019 16:33 IST
India smartphone market ships record 46.6 mn units in Q3 2019- India TV Paisa
Photo:INDIA SMARTPHONE MARKET

India smartphone market ships record 46.6 mn units in Q3 2019

नई दिल्‍ली। त्योहारी सीजन पर ऑनलाइन बिक्री, नए मॉडलों की पेशकश तथा कुछ ब्रांड द्वारा कीमतों में कमी से देश में जुलाई-सितंबर तिमाही में स्मार्टफोन की बिक्री 9.3 प्रतिशत बढ़कर रिकॉर्ड 4.66 करोड़ इकाई पर पहुंच गई। अनुसंधान कंपनी आईडीसी ने सोमवार को यह जानकारी दी। आईडीसी के अनुसार इससे पिछली तिमाही अप्रैल-जून की तुलना में समीक्षाधीन तिमाही में स्मार्टफोन की बिक्री 26.5 प्रतिशत बढ़ी है।

आईडीसी के क्‍वाटरली मोबाइल फोन ट्रैकर के मुताबिक शाओमी ने इस तिमाही में सबसे ज्‍यादा 1.26 करोड़ स्‍मार्टफोन बेचे हैं। कंपनी ने सालाना आधार पर 8.5 प्रतिशत की वृद्धि हासिल की है। ओवरऑल स्‍मार्टफोन मार्केट में रेडमी 7ए और रेडमी नोट 7 प्रो सबसे ज्‍यादा बिकने वाले मॉडल रहे।

आईडीसी का अनुमान है कि 2019 में स्मार्टफोन बाजार में एक अंकीय वृद्धि रहेगी। आईडीसी इंडिया के शोध निदेशक (क्लाइंट डिवाइस और आईपीडीएस) नवकेंदर सिंह ने कहा कि इस वृद्धि को इस रूप में लिया जा सकता है कि उपभोक्ता में धारणा काफी मजबूत बनी हुई थी लेकिन वह सहनशील बना हुआ था दूसरी तरफ वर्ष की आखरी तिमाही में कम बिक्री भी इसकी वजह रही है।

सिंह ने कहा कि ऑनलाइन खिलाड़ियों का आक्रामक रुख ऑफलाइन माध्यमों के लिए एक बड़ी चुनौती बना हुआ है, जो आज भी देश में स्मार्टफोन का सबसे बड़ा चैनल है। उन्होंने कहा कि इन सब कारणों से संकेत मिलता है कि अगली तिमाही में वृद्धि दर सुस्त रहेगी। कुल मोबाइल फोन बाजार में फीचर फोन का हिस्सा 43.3 प्रतिशत है। सितंबर तिमाही में फीचर फोन की बिक्री सालाना आधार पर 17.5 प्रतिशत घटकर 3.56 करोड़ इकाई रही।

तिमाही के दौरान 4जी अनुकूल फीचर फोन की बिक्री 20.3 प्रतिशत घट गई, जबकि 2जी और 2.5जी बाजार में 16.2 प्रतिशत की गिरावट आई। आईडीसी इंडिया की एसोसिएट शोध प्रबंधक (क्लाइंट डिवाइस) उपासना जोशी ने कहा कि ऑनलाइन मंचों द्वारा आकर्षक कैशबैक और बायबैक तथा बिना ब्याज की मासिक किस्त की सुविधा जैसी आक्रामक रणनीति से ऑनलाइन बाजार की हिस्सेदारी बढ़कर 45.4 प्रतिशत के उच्चस्तर पर पहुंच गई। इसमें सालाना आधार पर 28.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई। आईडीसी ने कहा कि ऑफलाइन माध्यमों के समक्ष लगातार चुनौती बनी हुई है। तीसरी तिमाही में उनकी बिक्री में 2.6 प्रतिशत की गिरावट आई। 

Write a comment
bigg-boss-13