1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. स्‍टील उत्पादन में जापान को पछाड़ भारत पहुंचा दूसरे स्थान पर, चीन है पहले स्‍थान पर

स्‍टील उत्पादन में जापान को पछाड़ भारत पहुंचा दूसरे स्थान पर, चीन है पहले स्‍थान पर

डब्ल्यूएसए की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2018 में चीन का कच्चे स्टील का उत्पादन 6.6 प्रतिशत बढ़कर 92.83 करोड़ टन पर पहुंच गया। 2017 में यह 87.09 करोड़ टन था।

Edited by: India TV Paisa Desk [Published on:28 Jan 2019, 3:40 PM IST]
india japan- India TV Paisa
Photo:INDIA JAPAN

india japan

नई दिल्‍ली। जापान को पीछे छोड़कर भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्‍टील उत्पादक देश बन गया है। वर्ल्‍ड स्‍टील एसोसिएशन (डब्ल्यूएसए) के अनुसार स्‍टील उत्पादन में चीन पहले स्थान पर है। कुल वैश्विक स्‍टील उत्पादन में चीन की हिस्सेदारी 51 प्रतिशत है। 

डब्ल्यूएसए की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2018 में चीन का कच्चे स्‍टील का उत्पादन 6.6 प्रतिशत बढ़कर 92.83 करोड़ टन पर पहुंच गया। 2017 में यह 87.09 करोड़ टन था। वैश्विक स्‍टील उत्पादन में चीन की हिस्सेदारी 50.3 प्रतिशत से बढ़कर 51.3 प्रतिशत हो गई। 

रिपोर्ट के अनुसार भारत का कच्चे स्‍टील का उत्पादन 2018 में 4.9 प्रतिशत बढ़कर 10.65 करोड़ टन रहा, जो 2017 में 10.15 करोड़ टन था। जापान का उत्पादन इस दौरान 0.3 प्रतिशत घटकर 10.43 करोड़ टन रह गया। इस तरह भारत ने स्‍टील उत्पादन में जापान को पीछे छोड़ दिया। रिपोर्ट में बताया गया है कि 2018 में वैश्विक स्‍टील उत्पादन 4.6 प्रतिशत बढ़कर 180.86 करोड़ टन रहा, जो 2017 में 172.98 करोड़ टन था। 

शीर्ष दस स्‍टील उत्पादक देशों में अमेरिका 8.67 करोड़ टन के उत्पादन के साथ चौथे स्थान पर है। उसके बाद दक्षिण कोरिया (7.25 करोड़ टन के साथ पांचवें), रूस (7.17 करोड़ टन के साथ छठे), जर्मनी (4.24 करोड़ टन के साथ सातवें), तुर्की (3.73 करोड़ टन के साथ आठवें), ब्राजील (3.47 करोड़ टन के साथ नौवें) और ईरान (2.5 करोड़ टन के साथ दसवें) का नंबर आता है। अन्य देशों में इटली ने बीते साल 2.45 करोड़ टन का इस्पात उत्पादन किया। फ्रांस ने 1.54 करोड़ टन और स्पेन ने 1.43 करोड़ टन का उत्पादन किया। 

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019