1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. उद्योग जगत ने 'सुधारक' जेटली को दी श्रद्धांजलि, पूर्व वित्त मंत्री के योगदान को किया याद

उद्योग जगत ने 'सुधारक' जेटली को दी श्रद्धांजलि, पूर्व वित्त मंत्री के योगदान को किया याद

पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर भारतीय उद्योग जगत ने शनिवार को गहरा दु:ख जताया। देश के शीर्ष उद्यमियों ने जेटली को अपनी श्रद्धांजलि में उन्हें एक महान राजनेता और सच्चा सुधारवादी बताया।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: August 24, 2019 19:13 IST
Finance Minister Nirmala Sitharaman pays tribute to former Union Finance Minister Arun Jaitley- India TV Paisa

Finance Minister Nirmala Sitharaman pays tribute to former Union Finance Minister Arun Jaitley

नयी दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर भारतीय उद्योग जगत ने शनिवार को गहरा दु:ख जताया। देश के शीर्ष उद्यमियों ने जेटली को अपनी श्रद्धांजलि में उन्हें एक महान राजनेता और सच्चा सुधारवादी बताया। जेटली (66) का शनिवार को एम्स में निधन हुआ। वहां कई सप्ताह से भर्ती थे। 

अडानी समूह के अध्यक्ष गौतम अडानी ने एक ट्वीट में कहा कि एक प्रतिभाशाली वक्ता, सक्रिय सांसद, सार्वजनिक नीतियों महारथी और हर वर्गों के लोगों से संपर्क स्थापित करने की अनूठी क्षमता वाले अरुण जेटली की दूरदर्शिता और प्रगतिशील सोच नये भारत को बनाने में उत्प्रेरक रही है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।

भारती एयरटेल के अध्यक्ष सुनील भारती मित्तल ने कहा कि भारत का एक प्रखर नेता और विधि विशेष दुनिया से चला गया। उन्होंने कहा कि जेटली किसी बात को अपने खास अंदाज से देखते थे। इसी करण कई बार दूसरे पक्ष के लोग भी सलाह के लिए उनकी ओर आकर्षित होते थे। 

महिंद्रा ग्रुप के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा ने भी शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, 'मैं एक ऐसे व्यक्ति की आत्मा को नमन करता हूं और उनके लिए प्रार्थना करता हूं, जिनने जिंदगी अपने विश्वास के साथ जी और जिसने अपने जीवन को देश के लिए समर्पित किया...।'

एचडीएफसी लिमिटेड के अध्यक्ष दीपक पारेख ने कहा कि देश ने एक बड़ी शख्सियत को खो दिया है। हाल के समय में भारत के सबसे महत्वपूर्ण सुधारों में से एक (जीएसटी की शुरुआत) के लिए देश हमेशा उनको याद करेगा। वेदांत के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने कहा कि यह एक अपूरणीय क्षति है, यह क्षति न केवल उनकी पार्टी के लिए है, बल्कि पूरे देश की है। बायोकॉन की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ ने ट्वीट किया कि वह इतने युवा और सक्रिय राजनीतिक नेता के जीवन के जल्द समाप्ति से बहुत दुखी हैं- उनके पास देश के विकास में योगदान देने के लिए बहुत कुछ था। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। 

उद्योग मंडल एसोचैम के अध्यक्ष बीके गोयनका ने कहा कि अरुण जेटली के निधन से उन्हें गहरा दुःख हुआ। वह एक राष्ट्रीय नेता थे, जिन्होंने समाज के सभी वर्गों का काफी सम्मान मिला। जेटली ने एक व्यवहारिक और प्रगतिशील नेता के रूप में अमिट छाप छोड़ी है। वह मूल रूप से सुधारवादी थे और 'एसोचेम' के अच्छे मित्र थे। सीआईआई के अध्यक्ष विक्रम कर्लोस्कर ने जेटली को 'सच्चा सुधारवादी और आर्थिक उदारवाद का सशक्त प्रवक्ता बताया।' 

पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष राजीव तलवार ने जेटली को सर्वश्रेष्ठ वित्त मंत्री बताया, जिन्होंने देश को राजकोषीय विवेक और उत्कृष्ट वित्तीय सुगठन प्रदान किया तथा भारत को दुनिया की सबसे तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनाया। माल एवं सेवा कर, दिवाला और दिवालियापन संहिता जैसे ऐतिहासिक सुधारों को अंजाम देने का एक बड़ा श्रेय जेटली को जायेगा। 

जेएसडब्ल्यू समूह के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सज्जन जिन्दल ने ट्वीट किया कि जेटली एक अद्भुत इंसान, एक अच्छे मित्र और एक संपूर्ण पेशेवर थे। वह देश को बारीकी से समझते थे और उन्हें हमेशा आदर के साथ याद किया जाएगा और उनकी कमी खलेगी। हमारा देश एक महान सपूत खो दिया है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे। 

फिक्की के अध्यक्ष संदीप सोमनी ने कहा, 'अरुण जी का निधन भारत के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है। देश का एक गौरवशाली पुत्र, एक देशभक्त, एक राष्ट्रवादी और एक व्यक्ति जिसका हमारे देश की जबरदस्त आर्थिक क्षमता के प्रति दृढ़ विश्वास था, आज हमारे बीच से उठ गया।'

Write a comment