1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Weather Warning: 70 की रफ्तार से चल सकती है आंधी, दिल्ली के साथ 20 से ज्यादा राज्यों के लिए IMD का अलर्ट

Weather Warning: 70 की रफ्तार से चल सकती है आंधी, दिल्ली के साथ 20 से ज्यादा राज्यों के लिए IMD का अलर्ट

रविवार रात को आंधी और तूफान ने देश के अलग-अलग हिस्सों में जिस तरह की तबाही मचाई है उसी तरह की तबाई की चेतावनी फिर से जारी की गई है। मौसम विभाग ने 20 से ज्यादा राज्यों के लिए फिर से अलर्ट जारी किया है।

Reported by: Manoj Kumar [Updated:14 May 2018, 1:38 PM IST]
IMD alert on thunderstorm and squall- India TV Paisa

IMD alert on thunderstorm and squall

नई दिल्ली। रविवार रात को आंधी और तूफान ने देश के अलग-अलग हिस्सों में जिस तरह की तबाही मचाई है उसी तरह की तबाई की चेतावनी फिर से जारी की गई है। मौसम विभाग ने 20 से ज्यादा राज्यों के लिए फिर से अलर्ट जारी किया है। कुछेक राज्यों में भारी बरसात की चेतावनी भी है। ज्यादातर राज्यों के लिए अलर्ट सोमवार के लिए है लेकिन कुछेक राज्यों में मंगलवार को भी मौसम खराब रहने की चेतावनी है।

मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार और मंगलवार को जम्मु-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में तूफान और तेज आंधी चल सकती है, हवा की रफ्तार 50-70 किलोमीटर प्रतिघंटा रह सकती है। सोमवार को पूर्वी बिहार, पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में भी कुछेक जगहों पर इसी तरह की चेतावनी है।

मंगलवार यानि 15 मई के दिन पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, झारखंड, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मीजोरम, त्रिपुरा, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडू और पॉण्डिचेरी में कुछेक जगहों पर तूफान और धूल भरी आंधी चलने की चेतावनी है। मौसम विभाग ने 14-15 मई के दौरान राजस्थान में कुछेक जगहों पर लू की चेतावनी भी जारी की है।

रविवार शाम को आए तूफान ने देश के कई राज्यों में कहर बरपाया है, तूफान और आंधी की वजह से देशभर में कुल 48 लोगों की मौत हो गई है। सबसे अधिक उत्तर प्रदेश में 23 और पश्चिम बंगाल में 12 लोगों की मौत की खबर है। इनके अलावा आंध्र प्रदेश में 9 और दिल्ली में भी 2 लोगों की मौत हुई है। प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति ने इस क्षति पर शोक व्यक्त किया है। 

Web Title: Weather Warning: 70 की रफ्तार से चल सकती है आंधी, दिल्ली के साथ 20 से ज्यादा राज्यों के लिए IMD का अलर्ट
Write a comment