1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर को खुलेगा, 6 साल में सबसे बड़ा इश्यू

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर को खुलेगा, 6 साल में सबसे बड़ा इश्यू

आईसीआईसीआई बैंक की लाइफ इन्श्योरेंस सब्सिडियरी कंपनी आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर से 21 सितंबर तक खुला रहेगा।

Ankit Tyagi [Published on:09 Sep 2016, 1:11 PM IST]
आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर को खुलेगा, प्राइस बैंड 300-334 रुपए- India TV Paisa
आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर को खुलेगा, प्राइस बैंड 300-334 रुपए

नई दिल्ली। आईसीआईसीआई बैंक की लाइफ इन्श्योरेंस सब्सिडियरी कंपनी आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर से 21 सितंबर तक खुला रहेगा। कंपनी ने इसका प्राइस बैंड 300-334 रुपए प्रति शेयर तय किया है। आपको बातें दे कि भारत में यह किसी बीमा कंपनी का पहला और पिछले छह महीने में सबसे बड़ा आईपीओ है।

ये भी पढ़े: सेबी ने तीन बड़े आईपीओ को दी मंजूरी, शेयर बाजार में लिस्‍ट होगी पहली बीमा कंपनी

6 साल में सबसे बड़ा आईपीओ

कंपनी की इश्यू के जरिए 5000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना है। ये इश्यू साइज पिछले 6 साल में सबसे बड़ा होगा। इससे पहले कोल इंडिया ने आईपीओ के जरिए मार्केट से इससे ज्यादा रकम जुटाई गई थी।

ये भी पढ़े: IPO में निवेश करने से पहले जरूर जानें ये 6 बातें, नहीं होगा कोई आर्थिक नुकसान

12.65 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगा आईसीआईसीआई बैंक

सेबी को दिए गए डॉक्यूमेंट्स के मुताबिक आईसीआईसीआई बैंक इंश्योरेंस जेवी में इश्यू के द्वारा 12.65 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगा। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल आईसीआईसीआई बैंक और प्रूडेंशियल कॉप होल्डिंग्स का ज्वाइंट वेंचर है। बैंक इंश्योरेंस कंपनी के 1.81 करोड़ शेयर बैंक के कर्मचारियों के लिए रिजर्व रखेगा। ज्वाइंट वेंचर में आईसीआईसीआई बैंक की हिस्सेदारी 68 फीसदी हिस्सेदारी है। वहीं, प्रूडेंशियल कॉर्प की हिस्सेदारी 26 फीसदी है। अप्रैल में ही बैंक के बोर्ड ने लिस्टिंग के जरिए स्टेक सेल की योजना को मंजूरी दी थी। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल का मार्च 2016 अंत तक कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट 1.03 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर है।

लिस्टिंग को लेकर इंश्योरेंस कंपनियों का सुस्त रिस्पॉन्स

पिछले महीने ही आईआरडीए ने एक डिस्कशन पेपर जारी किया था, जिसमें इंश्योरेंस कंपनियों की अनिवार्य लिस्टिंग पर सलाह दी गई थी। डिस्कशन पेपर में प्रस्ताव है कि सभी इंश्योरेंस कंपनियों को तीन साल में लिस्टिंग अनिवार्य की जाए। प्रस्ताव के मुताबिक इस फैसले में ऐसी सभी जनरल इंश्योरेंस कंपनियां आएंगी जो पिछले 8 साल से कार्य कर रही हों। वहीं ऐसी लाइफ इंश्योरेंस कंपनियां जो 10 साल से आपरेशंस संभाल रही हों भी इस फैसले में शामिल हो सकती हैं। दरअसल आईआरडीए ने पिछले साल ही आईपीओ लाने के लिए गाइडलाइन जारी की थी। हालांकि इंश्योरेंस कंपनियों का अब तक रिस्पॉन्स सुस्त रहा है।

इन इन्श्योरेंस कंपनी के भी आएंगे आईपीओ

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के अलावा एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस ने ही आईपीओ के लिए अर्जी दी । हालांकि अगस्त में ही एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस और मैक्स लाइफ इंश्योरेंस ने मर्जर का ऐलान किया, जिसके बाद हुए स्पेशल अरेंजमेंट के जरिए एचडीएफसी लाइफ मार्केट में लिस्ट हो जाएगी। इंश्योरेंस कंपनियों के सुस्त रिएक्शन को देखते हुए ही आईआरडीए ने ये डिस्कशन पेपर जारी किया है। आईआरडीए के पास जुलाई के अंत तक 55 इंश्योरेंस कंपनियां रजिस्टर हैं। इनमें से 32 ने ऑपरेशंस के 10 साल पूरे कर लिए हैं।

Web Title: आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ का आईपीओ 19 सितंबर को खुलेगा
Write a comment