1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इनकम टैक्‍स विभाग ने 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम किए सार्वजनिक, 448 करोड़ रुपए का टैक्‍स है बकाया

इनकम टैक्‍स विभाग ने 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम किए सार्वजनिक, 448 करोड़ रुपए का टैक्‍स है बकाया

इनकम टैक्‍स विभाग ने शनिवार को ऐसे 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम सार्वजनिक किए हैं, जिन पर 448.02 करोड़ रुपए का टैक्‍स बकाया है। नेम एंड शेम रणनीति के तहत उठाया है।

Abhishek Shrivastava [Updated:18 Mar 2017, 3:25 PM IST]
इनकम टैक्‍स विभाग ने 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम किए सार्वजनिक, 448 करोड़ रुपए का टैक्‍स है बकाया- India TV Paisa
इनकम टैक्‍स विभाग ने 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम किए सार्वजनिक, 448 करोड़ रुपए का टैक्‍स है बकाया

नई दिल्‍ली। इनकम टैक्‍स विभाग ने शनिवार को ऐसे 29 डिफॉल्‍टर्स के नाम सार्वजनिक किए हैं, जिन पर 448.02 करोड़ रुपए का टैक्‍स बकाया है। विभाग ने यह कदम अपनी नेम एंड शेम रणनीति के तहत उठाया है।

प्रमुख दैनिक अखबारों में जारी विज्ञापन में विभाग ने इनकम टैक्‍स और कॉरपोरेट टैक्‍स के डिफॉल्‍टर्स के नाम प्रकाशित किए हैं।

  • इस विज्ञापन में डिफॉल्‍टर्स से अपना बकाया टैक्‍स तुरंत जमा करने का भी सुझाव दिया गया है।
  • विभाग इससे पहले भी ऐसा कर चुका है और अब तक कुल 67 लोगों के नाम जारी किए जा चुके हैं।
  • ये ऐसे लोग या इकाइयां हैं जिनपर बहुत बड़ी राशि की टैक्‍स देनदारी बकाया है।
  • ये लोग लापता है और इनके पास ऐसी कोई संपत्ति भी नहीं है जिससे रिकवरी की जा सके।
  • एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि सार्वजनिक सूचना में व्‍यक्ति या इकाई की जानकारी जैसे पैन कार्ड नंबर, अंतिम ज्ञात पता और मूल्‍याकंन रेंज तथा बकाया टैक्‍स राशि की सूचना दी गई है।
  • इस विज्ञापन का उद्देश्‍य लोगों को इस बात के लिए भी जागरुक करना है यदि उनके पास इन लोगों से जुड़ी कोई सूचना है तो वे विभाग को अवगत कराएं।
  • अधिकारी ने बताया कि इन 29 डिफॉल्‍टर्स पर कुल 448.02 करोड़ रुपए का टैक्‍स बकाया है।
  • केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड ने कुछ साल पहले बड़े डिफॉल्‍टर्स के नाम सार्वजनिक करने की योजना पेश की थी।
इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019