1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. प्रति वर्ष स्पेक्ट्रम नीलामी एक प्रगतिशील विचार, लेकिन अगले वित्‍त वर्ष में इसकी जरूरत नहीं : मित्तल

प्रति वर्ष स्पेक्ट्रम नीलामी एक प्रगतिशील विचार, लेकिन अगले वित्‍त वर्ष में इसकी जरूरत नहीं : मित्तल

भारत सरकार के सालाना स्पेक्ट्रम नीलामी के प्रस्ताव का समर्थन करते हुए भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील मित्तल का कहना है कि यह वाकई में एक प्रगतिशील कदम है।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: March 02, 2017 12:18 IST
प्रति वर्ष स्पेक्ट्रम नीलामी एक प्रगतिशील विचार, लेकिन अगले वित्‍त वर्ष में इसकी जरूरत नहीं : मित्तल- India TV Paisa
प्रति वर्ष स्पेक्ट्रम नीलामी एक प्रगतिशील विचार, लेकिन अगले वित्‍त वर्ष में इसकी जरूरत नहीं : मित्तल

बार्सिलोना। भारत सरकार के हर साल स्पेक्ट्रम नीलामी के प्रस्ताव का समर्थन करते हुए भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल का कहना है कि यह वाकई में एक प्रगतिशील कदम है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले वित्त वर्ष में स्पेक्ट्रम नीलामी की कोई जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें :AirTel के चेयरमैन मित्‍तल ने कहा : जियो की दरें आक्रामक, ज्यादा टिकने वाली नहीं

मित्तल ने एक साक्षात्‍कार में कहा,

जिस तरह टेलीकॉम सचिव ने यह बात रखी है कि हर साल स्पेक्ट्रम की नीलामी की जाएगी, भले ही उद्योग जगत को इसकी जरूरत हो या ना हो, यह अपने आप में एक प्रगतिशील विचार है वास्तव में यह विश्वभर में एक अच्छा अभ्यास बनेगा।

यह भी पढ़ें : Airtel ने देशभर में खत्‍म की रोमिंग, कॉल्‍स, SMS और डाटा के लिए 1 अप्रैल से नहीं देना होगा चार्ज

टेलीकॉम सचिव ने सालाना स्‍पेक्‍ट्रम नीलामी पर किए जाने की बात कही थी

  • दूरसंचार सचिव जे. एस. दीपक ने कुछ दिन पहले कहा था कि सरकार स्पेक्ट्रम नीलामी सालाना आयोजित करने पर विचार कर रही है।
  • अभी इस पर दूरसंचार नियामक ट्राई से सिफारिशें मांगी गई हैं।
  • दीपक ने कहा था कि सरकार की योजना उद्योग जगत को उनके हित में एक विकल्प देने की है।
  • ताकि अच्छी गुणवत्ता वाली मोबाइल सेवाएं उपलब्ध कराने में कभी भी स्पेक्ट्रम की कमी नहीं हो।
  • हालांकि, दीपक को हाल ही में तत्काल प्रभाव से दूरसंचार मंत्रालय से वाणिज्य मंत्रालय में स्‍थानांतरित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें :नोकिया और एयरटेल ने मिलाया हाथ, 5G और IoT एप्लिकेशन पर साथ मिलकर करेंगे काम

  • पिछले कुछ सालों में स्पेक्ट्रम की कीमत के नियंत्रण से बाहर होने पर उसकी वहनीयता के बारे में हाल ही में मित्तल ने कहा था कि कम से कम 2017-18 में तो नीलामी की जरूरत नहीं है।
  • हालांकि उन्होंने कहा कि क्षेत्र में नए सेवाप्रदाताओं के आने से दूरसंचार सेवाप्रदाताओं को परेशानी हो रही है लेकिन फिर भी उन्हें प्रतिस्पर्धा को संभालने के लिए अपना निवेश बढ़ाना होगा।
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban