1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Gold below 26,000: शादियों के सीजन से पहले सस्ता हुआ gold, सरकार ने कम की सोने-चांदी पर इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू

Gold below 26,000: शादियों के सीजन से पहले सस्ता हुआ gold, सरकार ने कम की सोने-चांदी पर इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू

शादी के सीजन की शुरुआत से पहले घरेलू बाजार में Gold 3 महीने और अंतरराष्ट्रीय बाजार में 6 साल के निचले स्तर पर फिसल गया है। आगे भी गिरावट की आशंका बनी है।

Abhishek Shrivastava [Updated:13 Nov 2015, 6:49 PM IST]
Gold below 26,000: शादियों के सीजन से पहले सस्ता हुआ gold, सरकार ने कम की सोने-चांदी पर इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू- India TV Paisa
Gold below 26,000: शादियों के सीजन से पहले सस्ता हुआ gold, सरकार ने कम की सोने-चांदी पर इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू

नई दिल्ली। दीपावली का त्‍योहार निकल जाने के बाद ज्‍वैलर्स और रिटेलर्स की ओर से gold की मांग कम हुई है। इस वजह से शादियों के सीजन की शुरुआत से पहले Gold की कीमतों में तेज गिरावट देखने को मिल रही है। वहीं अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने की संभावना से अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमतें 6 साल के निचले स्तर के करीब आ गई हैं। इस वजह से घरेलू बाजार में सोना 3 महीने के सबसे निचले स्‍तर पर पहुंच गया है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक अगले तीन महीने में gold का भाव 24,000 रुपए प्रति 10 ग्राम के नीचे फिसल सकता है।

कम हुई इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू

सरकार ने शुक्रवार को सोने और चांदी की इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू घटा दी है। सोने की इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू 373 डॉलर प्रति 10 ग्राम से घटाकर 354 डॉलर प्रति 10 ग्राम की गई है। इसी प्रकार चांदी की इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू 517 डॉलर प्रति किलोग्राम से घटाकर 470 डॉलर प्रति किलोग्राम कर दी गई है। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोने की कीमतों में आई गिरावट के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है।

इंपोर्ट टैरिफ वैल्‍यू वह बेस प्राइस है, जिस पर कस्‍टम ड्यूटी की गणना की जाती है। यह वैल्‍यू अंडर-इनवोइसिंग को रोकने के लिए तय की जाती है। सामान्‍य तौर पर हर पन्‍द्रह दिनों में इसे संशोधित किया जाता है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक सितंबर महीने में सोने का आयात घटकर 2 अरब डॉलर रहा है, जो कि पिछले साल समान अवधि में 3.783 अरब डॉलर था। भारत में पेट्रोलियम के बाद सोना दूसरा सबसे ज्‍यादा आयात करने वाली वस्‍तु है।

खरीदारी के लिए करें थोड़ा इंतजार, गिरेंगे दाम

केडिया कमोडिटी के एमडी अजय केडिया ने इंडियाटीवी पैसा को बताया कि अगले तीन महीने में gold की कीमतें 24,000 रुपए प्रति 10 ग्राम के नीचे आ सकती हैं। 24,000 का स्तर gold खरीदने के लिए अच्छा मौका हो सकता है। अगर किसी को gold खरीदना है तो कम से कम 16 दिसंबर को होने वाली फेड की बैठक तक इंतजार कर सकते हैं। इस बैठक में अमेरिका में ब्याज दरें घटना तय है, जिसका नकारात्मक असर गोल्‍ड की कीमतों पर पड़ेगा।

तीन महीने में सबसे सस्ता सोना

सर्राफा कारोबारी राजेश सोनी ने बताया कि दिल्ली के सर्राफा बाजार में gold की कीमतें 26,000 रुपए प्रति 10 ग्राम के नीचे आ गई हैं, जो कि तीन महीने में सबसे कम है। शुक्रवार को सोना 300 रुपए की गिरावट के साथ 25,950 रुपए प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ। सोनी के मुताबिक दिवाली खत्म होने से ज्वैलर्स और रिटेलर्स की ओर से सोने की मांग घटी है, जिसके कारण कीमतों पर दबाव नजर आ रहा है। हालांकि, जल्द ही शादियों का सीजन शुरू होने वाला है। ऐसे में ज्वैलरी की डिमांड बढ़ सकती है।

indiatv paisa gold

6 साल के निचले स्तर पर Gold

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमतों में गिरावट का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है। बीते 13 कारोबारी सत्र में 12 दिन सोने में गिरावट दर्ज की गई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमतें 6 साल के निचले स्तर के करीब पहुंच गई हैं। गुरुवार को सोना 1074.26 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर आ गया था, जो कि फरवरी 2010 का निचला स्तर है। फिलहाल (शाम 3:40 बजे ) कॉमैक्स पर सोना 1083 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा है।

Gold की कीमतों में गिरावट के प्रमुख कारण

सोने की कीमतों में गिरावट की प्रमुख तीन वजह हैं। अमेरिका में ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी, निवेशकों की ईटीएफ में बिकवाली और गोल्ड मोनेटाइजेशन का शुरू होना। इन तीन कारणों की वजह से सोने की कीमतों में गिरावट देखने को मिल रही है। दुनिया की सबसे बड़ी गोल्ड ईटीएफ एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग 7 साल के निचले स्तर पर फिसल गई है। इससे पता चलता है निवेशक अपना पैसा सोने से निकाल रहे हैं।

Web Title: तीन महीने के निचले स्तर पर Gold, और घट सकते हैं दाम
Write a comment