1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. विदेशी मुद्रा भंडार में आई कमी, 14.97 करोड़ डॉलर घटकर हुआ 352.365 अरब डॉलर

विदेशी मुद्रा भंडार में आई कमी, 14.97 करोड़ डॉलर घटकर हुआ 352.365 अरब डॉलर

देश का विदेशी मुद्रा भंडार 20 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 14.97 करोड़ डॉलर घटकर 352.36 अरब डॉलर रह गया है।

Abhishek Shrivastava [Published on:27 Nov 2015, 7:53 PM IST]
विदेशी मुद्रा भंडार में आई कमी, 14.97 करोड़ डॉलर घटकर हुआ 352.365 अरब डॉलर- India TV Paisa
विदेशी मुद्रा भंडार में आई कमी, 14.97 करोड़ डॉलर घटकर हुआ 352.365 अरब डॉलर

नई दिल्‍ली। देश का विदेशी मुद्रा भंडार 20 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 14.97 करोड़ डॉलर घटकर 352.36 अरब डॉलर रह गया है। भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को विदेशी मुद्रा संबंधी ताजा आंकड़े जारी किए हैं। इसके मुताबिक विदेशी मुद्रा संपत्ति में कमी आने की वजह से विदेशी मुद्रा भंडार घटा है।

आरबीआई के ताजा आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले सप्‍ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 78.09 करोड़ डॉलर बढ़कर 352.515 अरब डॉलर पर पहुंच गया था। आरबीआई ने शुक्रवार को बयान जारी कर बताया कि 20 नवंबर को समाप्‍त सप्‍ताह के दौरान विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए), कुल भंडार में प्रमुख हिस्‍सेदार, 13.35 करोड़ डॉलर घटकर 328.395 अरब डॉलर रह गई है।

इस दौरान देश का कुल स्‍वर्ण भंडार बिना किसी बदलाव के पूर्व स्थिति में रहा। सोने का कुल भंडार 18.691 अरब डॉलर है। अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में भारत का विशेष आहरण अधिकार भी 1.22 करोड़ डॉलर घटकर 3.986 अरब डॉलर रह गया है, जबकि आईएमएफ में देश का रिजर्व स्थिति भी 40 लाख डॉलर की गिरावट के बाद 1.292 अरब डॉलर की रह गई है।

रुपया 19 पैसे टूटकर 66.76 पर पहुंचा

आयातकों व कुछ बैंकों की माह अंत की डॉलर मांग बढ़ने से शुक्रवार को रुपया 19 पैसे टूटकर दो साल से अधिक के निचले स्तर 66.76 प्रति डॉलर पर पहुंच गया। फॉरेक्‍स डीलरों ने कहा कि इसके अलावा विदेशी पूंजी की सतत निकासी से

भी बाजार की धारणा प्रभावित हुई। अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया 66.66 प्रति डॉलर पर कमजोर खुला और 66.89 प्रति डॉलर के निचले स्तर तक गया। अंत में यह 19 पैसे या 0.29 फीसदी के नुकसान से 66.76 प्रति डॉलर पर बंद हुआ, जो इसका दो साल से अधिक का निचला स्तर है।

Web Title: विदेशी मुद्रा भंडार में आई गिरावट
Write a comment