1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 4 Years of PM Modi: वित्त मंत्रालय ने जनधन योजना को बताया बड़ी उपलब्धि, गिनाई इसकी सफलताएं

4 Years of PM Modi: वित्त मंत्रालय ने जनधन योजना को बताया बड़ी उपलब्धि, गिनाई इसकी सफलताएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल को इस महीने 4 साल पूरे हो रहे हैं, इस मौके पर केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने अपनी 4 साल की उपलब्धियों में प्रधानमंत्री जनधन योजना (PMJDY) को बड़ी उपलब्धि माना है और इसकी कई सफलताएं भी गिनाई हैं।

Manoj Kumar Manoj Kumar
Published on: May 23, 2018 14:01 IST
Finance Ministry terms PMJDY as big achievement of 4 years of Modi Government- India TV Paisa

Finance Ministry terms PMJDY as big achievement of 4 years of Modi Government

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल को इस महीने 4 साल पूरे हो रहे हैं, इस मौके पर केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने अपनी 4 साल की उपलब्धियों में प्रधानमंत्री जनधन योजना (PMJDY) को बड़ी उपलब्धि माना है और इसकी कई सफलताएं भी गिनाई हैं। बुधवार को वित्त मंत्रालय ने अपने ट्विटर हेंडल से PMJDY की सफलताओं की जानकारी दी है। वित्त मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अग्स्त 2014 में इस योजना की शुरुआत की थी और इस योजना को पूरी दुनिया में सराहा गया है।

वित्त मंत्रालय ने गिनाई PMJDY की सफलताएं

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश को वित्तीय समावेश से जोड़ने के मकसद से अगस्त 2014 में प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरुआत की थी।
  • PMJDY की शुरुआत से लेकर 2 मई 2018 तक देशभर में इसके तहत 31.56 करोड़ बैंक खाते खोले जा चुके हैं।
  • इस योजना के तहत खुले कुल 31.56 करोड़ खातों में से 59 प्रतिशत खाते ग्रामीण क्षेत्रों में खोले गए हैं और 53 प्रतिशत खाते महिलाओं के हैं।
  • 2 मई 2018 तक जनधन खातों मे जमा रकम 81307 करोड़ रुपए दर्ज की गई है
  • जनधन योजना की शुरुआत के समय जीरो बैलेंस खाते बहुत ज्यादा थे, दिसंबर 2014 में इस योजना के तहत खुले खातों में से 73 प्रतिशत जीरे बैलेंस थे लेकिन मार्च 2018 तक सिर्फ 16 प्रतिशत खाते ही जीरो बैलेंस बचे हैं।
  • जनधन खाता धारकों में से ज्यादातर को RuPay कार्ड दिए जा चुके हैं, 2 मई 2018 तक इस योजना के तहत खुले 23.74 करोड़ खाता धारकों को RuPay कार्ड मिले हैं।
  • इस योजना की वजह से भारत में बैंकिंग सेवाओं का तेजी से विस्तार हुआ है, वर्ल्ड बैंक ग्रुप के मुताबिक 2011 में भारत में कुल बैंक खातों में युवाओं के खातों की जो हिस्सेदारी थी वह 2018 में दोगुनी हो चुकी है।
  • 2014 से 2017 के दौरान पूरी दुनिया में कुल मिलाकर 51.5 करोड़ बैंक खाते खुले हैं जिनमें 28.1 करोड़ भारत में खुले जनधन खाते हैं।

Write a comment