1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 2022 से चलेगी देश में पहली बुलेट ट्रेन, 250 रुपए से लेकर 3000 रुपए के बीच होगा किराया

2022 से चलेगी देश में पहली बुलेट ट्रेन, 250 रुपए से लेकर 3000 रुपए के बीच होगा किराया

मुंबई और अहमदाबाद के बीच प्रस्‍तावित बुलेट ट्रेन की सवारी के लिए यात्रियों को 250 रुपए से लेकर 3000 रुपए के बीच किराये का भुगतान करना होगा। एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि यह किराया दूरी पर निर्भर करेगा।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Updated on: April 13, 2018 18:42 IST
bullet train- India TV Paisa

bullet train

 

नई दिल्‍ली। मुंबई और अहमदाबाद के बीच प्रस्‍तावित बुलेट ट्रेन की सवारी के लिए यात्रियों को 250 रुपए से लेकर 3000 रुपए के बीच किराये का भुगतान करना होगा। एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि यह किराया दूरी पर निर्भर करेगा।

नेशनल हाई स्‍पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएचएसआरसीएल) के मैनेजिंग डायरेक्‍टर अचल खरे ने मोदी सरकार के इस महत्‍वाकांक्षी प्रोजेक्‍ट के बारे में पहली बार आधिकारिक तौर पर किराये का संकेत दिया है। खरे ने कहा कि किराया वर्तमान अनुमानों और गणनाओं पर आधारित है। उन्‍होंने कहा कि मुंबई से अहमदाबाद के लिए किराया 3000 रुपए और बांद्रा-कुर्ला कॉम्‍प्‍लेक्‍स (बीकेसी) से थाणे के लिए किराया 250 रुपए होगा।

खरे ने कहा कि यह किराया वर्तमान अनुमानों और गणनाओं पर आधारित है। बुलेट ट्रेन में एक बिजनेस क्‍लास भी होगा और इसके लिए किराया 3000 रुपए से भी ज्‍यादा होगा। उन्‍होंने कहा कि बुलेट ट्रेन की यात्रा हवाई जहाल की तुलना में बहुत अधिक किफायती और कम समय वाली होगी। एयरपोर्ट पर बोर्डिंग पास और सुरक्षा जांच आदि में बहुत समय लगता है।

टैक्‍सी से सस्‍ता होगा सफर

अधिकारी ने बताया कि थाणे और बांद्रा-कुर्ला कॉम्‍प्‍लेक्‍स के बीच यात्रा करने में एक से डेढ़ घंटे का समय लगता है, जबकि टैक्‍सी का किराया करीब 650 रुपए होता है। लेकिन हाईस्‍पीड ट्रेन के साथ यात्रा समय घटकर केवल 15 मिनट रह जाएगा और इसका किराया भी केवल 250 रुपए होगा।

फ्री मिलेगा खाना

बुलेट ट्रेन में 10 स्‍टैंडर्ड कोच होंगे जिसमें से एक बिजनेस क्‍लास होगा। बिजनेस क्‍लास में खाना मुफ्त दिया जाएगा और अन्‍च कोच में भी भुगतान के साथ खाना उपलब्‍ध कराया जाएगा।   

दिसंबर में शुरू होगा काम

खरे ने बताया कि बुलेट ट्रेन परियोजना पर इस साल दिसंबर तक काम शुरू हो सकता है, तब तक जमीन अधिग्रहण का काम पूरा होने की उम्‍मीद है। मंत्रालय को इस प्रोजेक्‍ट के लिए 1415 हेक्‍टेयर जमीन की जरूरत है और इसके लिए 10,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

3 से 4 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

अचल कुमार खरे ने बताया कि इस प्रोजेक्‍ट से 3 से 4 हजार लोगों को प्रत्‍यक्ष रोजगार मिलेगा जबकि 30 से 40 हजार लोगों को प्रोजेक्‍ट के निर्माण चरण में रोजगार मिलेगा। लगभग 80 जापानी इंजीनियर भारतीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

320 किमी प्रति घंटा होगी रफ्तार  

बुलेट ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद के बीच प्रतिदिन 70 ट्रिप पूरी करेगी। एक ट्रेन में 10 आधुनिक कोच होंगे। प्रस्‍तावित बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच लगभग 500 किलोमीटर की यात्रा 320 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पूरी करेगी। अचल खरे ने कहा कि बुलेट ट्रेन के 2022 में परिचालन शुरू करने की उम्‍मीद है।

Write a comment