1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 8 महीने बाद देश के निर्यात में आई गिरावट, जून में एक्‍सपोर्ट 9.71% घटकर रहा 25.01 अरब डॉलर

8 महीने बाद देश के निर्यात में आई गिरावट, जून में एक्‍सपोर्ट 9.71% घटकर रहा 25.01 अरब डॉलर

आयात भी इस साल जून में 9 प्रतिशत घटकर 40.29 अरब डॉलर रहा, जो इससे पूर्व वर्ष 2018 के इसी महीने में 44.3 अरब डॉलर था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 16, 2019 11:15 IST
Exports dip 9.71 pc after gap of eight months- India TV Paisa
Photo:EXPORTS DIP 9.71 PC AFTER

Exports dip 9.71 pc after gap of eight months

नई दिल्ली। देश के निर्यात में इस साल जून महीने में आठ महीने बाद पहली बार गिरावट दर्ज की गई है। रत्न और आभूषण, इंजीनियरिंग वस्तुओं तथा पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात कम होने से देश का कुल निर्यात जून 2019 में 9.71 प्रतिशत घटकर 25.01 अरब डॉलर रहा। एक साल पहले इसी महीने में यह 27.7 अरब डॉलर था। 

आयात भी इस साल जून में 9 प्रतिशत घटकर 40.29 अरब डॉलर रहा, जो इससे पूर्व वर्ष 2018 के इसी महीने में 44.3 अरब डॉलर था। इससे व्यापार घाटा 15.28 अरब डॉलर रहा। पिछले साल जून महीने में व्यापार घाटा 16.6 अरब डॉलर था। पिछली बार सितंबर 2018 में निर्यात में 2.15 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी। 

रत्न और आभूषण, इंजीनियरिंग वस्तुओं, पेट्रोलियम उत्पाद, प्लास्टिक, हस्तशिल्प, रेडीमेड परिधान, रसायन, चमड़ा और समुद्री उत्पादों, आयल मील और तिलहन के निर्यात में कमी से कुल निर्यात में गिरावट दर्ज की गई। आंकड़ों पर अपनी टिप्पणी में वाणिज्य सचिव अनूप वाधवान ने कहा कि जून महीने में निर्यात में गिरावट का बड़ा कारण पिछले साल जून महीने में तुलनात्मक आधार अत्यधिक मजबूत होना है।

उन्होंने कहा कि कुछ वैश्विक प्रवृत्तियों के कारण भी निर्यात में गिरावट दर्ज की गई है। सचिव ने संवाददाताओं से कहा कि विश्वबैंक ने अपनी वैश्विक आर्थिक संभावना (जून 2019) में 2019 में वैश्विक व्यापार के कमजोर रहने का अनुमान जताया है। वैश्विक व्यापार में इस साल 2.6 प्रतिशत की दर से वृद्धि का अनुमान है। यह पिछले अनुमान के मुकाबले एक प्रतिशत अंक कम है। 

दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में भी हाल के महीनों में निर्यात में गिरावट दर्ज की गई है। डब्ल्यूटीओ के ताजा आंकड़े के अनुसार जापान, यूरोपीय संघ और चीन के निर्यात में अप्रैल में क्रमश: 5.88 प्रतिशत, 4.30 प्रतिशत तथा 2.75 प्रतिशत की गिरावट आई है। अप्रैल में अमेरिका का निर्यात भी 2.12 प्रतिशत कम हुआ। 

मंत्रालय ने बयान में कहा कि रखरखाव की वजह से ओएनजीसी मैंगलोर पेट्रोकेमिकल लि. के अस्थायी रूप से बंद होने (17 अप्रैल से 28 जून) के कारण पेट्रोलियम उत्पादों के निर्यात पर असर पड़ा। जून 2019 में जामनगर रिफाइनरी में रखरखाव के कारण काम बाधित रहा। इंजीनियरिंग वस्तुओं का निर्यात प्रभावित होने का कारण स्टील की वैश्विक कीमतों में गिरावट है। 

तेल एवं गैर-तेल आयात क्रमश: 13.33 प्रतिशत घटकर 11 अरब डॉलर और 7.34 प्रतिशत कम होकर 29.26 अरब डॉलर रहा। इस साल अप्रैल-जून के दौरान निर्यात 1.69 प्रतिशत घटकर 81 अरब डॉलर रहा, जबकि आयात 0.29 प्रतिशत घटकर 127 अरब डॉलर रहा। इससे इस दौरान व्यापार घाटा कम होकर 45 अरब डॉलर रहा, जो इससे पूर्व अप्रैल-जून 2018 में 46 अरब डॉलर था। 

सोने का आयात जून महीने में 13 प्रतिशत बढ़कर 2.7 अरब डॉलर रहा। इस बीच, आरबीआई के ताजा आंकड़े के अनुसार मई में सेवा निर्यात 15.49 प्रतिशत बढ़कर 18.68 अरब डॉलर रहा। 

वहीं आयात आलोच्य महीने में 22.37 प्रतिशत बढ़कर 12.49 अरब डॉलर रहा। 

Write a comment