1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Ericsson row : RCom ने 550 करोड़ रुपए चुकाने के लिए मांगा 2 माह का समय, स्‍पेक्‍ट्रम बिक्री पूरी न होना बताया कारण

Ericsson row: RCom ने 550 करोड़ रुपए चुकाने के लिए मांगा 2 माह का समय, स्‍पेक्‍ट्रम बिक्री पूरी न होने को बताया कारण

अनिल अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस कम्‍यूनिकेशंस (आरकॉम) ने एरिक्‍सन का 550 करोड़ रुपए बकाया चुकाने के लिए और 60 दिन का समय मांगा है।

Edited by: India TV Paisa Desk [Published on:02 Oct 2018, 10:19 PM IST]
Mukesh and Anil Ambnai- India TV Paisa
Photo:MUKESH AND ANIL AMBNAI

Mukesh and Anil Ambnai

नई दिल्‍ली। अनिल अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस कम्‍यूनिकेशंस (आरकॉम) ने एरिक्‍सन का 550 करोड़ रुपए बकाया चुकाने के लिए और 60 दिन का समय मांगा है। कंपनी ने इसके लिए अपनी स्‍पेक्‍ट्रम बिक्री पूरी न हो पाने का हवाला दिया है।

आरकॉम ने बीएसई को नियामकीय जानकारी में बताया है कि एरिक्‍सन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने आरकॉम द्वारा 550 करोड़ रुपए का बकाया न चुकाने पर 1 अक्‍टूबर 2018 को सुप्रीम कोर्ट में उसके खिलाफ अवमानना याचिका दायर की है, जो अनुचित है।

आरकॉम ने कहा है कि उसने पहले ही 28 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट को एक आवेदन के जरिये स्‍वीडिश टेलीकॉम उपकरण निर्माता का बकाया चुकाने के लिए 60 दिन का समय मांगा है। इस मामले पर 4 अक्‍टूबर को सुनवाई होगी। कंपनी ने कहा कि एरिक्‍सन को आरकॉम की स्‍पेक्‍ट्रम बिक्री से मिलने वाली राशि से भुगतान किया जाना है। यह बिक्री अभी पूरी नहीं हो सकी है क्‍योंकि इसकी वजह आरकॉम के नियंत्रण से बाहर है।   

कंपनी ने कहा है कि इस सौदे को मंजूरी देने के लिए कंपनी ने दूरसंचार विभाग के पास आवेदन किया है। लेकिन विभाग ने कंपनी से 2,900 करोड़ रुपए की स्पेक्ट्रम इस्तेमाल शुल्क की मांग की है, जिसे आकॉम ने दूरसंचार विवाद निपटान एवं अपीलीय न्यायाधिकरण में चुनौती दी है। इसकी कई सुनवाई हो चुकी है और दूरसंचार न्यायाधिकरण ने एक अक्टूबर को अंतरिम राहत की घोषणा की है। आदेश की प्रति जल्द प्राप्त होगी। 

Web Title: Ericsson settlement deal row, RCom seeks 60 days more for payment citing pending spectrum sale | Ericsson row: RCom ने 550 करोड़ रुपए चुकाने के लिए मांगा 2 माह का समय, स्‍पेक्‍ट्रम बिक्री पूरी न होने को बताया कारण
Write a comment