1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Amazon ने Google-एप्पल को पछाड़ा, बना दुनिया का टॉप ब्रांड, देखिए पूरी लिस्ट में कौन कहां है

Amazon ने Google-एप्पल को पछाड़ा, बना दुनिया का टॉप ब्रांड, देखिए पूरी लिस्ट में कौन कहां है

खुदरा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन आईटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों एपल और गूगल को पछाड़कर दुनिया का सबसे बहुमूल्य ब्रांड बन गया है।

Bhasha Bhasha
Updated on: June 12, 2019 13:21 IST
E-commerce company Amazon beats Apple and Google to become the world’s most valuable brand- India TV Paisa

E-commerce company Amazon beats Apple and Google to become the world’s most valuable brand

लंदन। खुदरा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन आईटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों एपल और गूगल को पछाड़कर दुनिया का सबसे बहुमूल्य ब्रांड बन गया है। एक सर्वेक्षण में यह बात कही गई है। वैश्विक बाजार अनुसंधान एजेंसी कंतर ने अपनी 2019 सौ शीर्ष ब्रांड्स रपट में कहा कि अमेजन का ब्रांड मूल्य 52 प्रतिशत चढ़कर 315 अरब डॉलर हो गया है। 

इस रपट में अमेजन छलांग लगाकर तीसरे स्थान से पहले स्थान पर पहुंच गया है जबकि गूगल पिछड़कर पहले से तीसरे पायदान पर आ गया। एपल दूसरे पायदान पर टिका रहा।

गूगल को विश्वसनियता के मामले में भी अमेजन ने पछाड़ा

डेटा लीक और डेटा प्राइवेसी के बढ़ते मामलों के बाद भी ई-कॉमर्स कंपनियां और सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट इंटरनेट पर विश्वसनीय ब्रांड की लिस्ट में शामिल होने में कामयाब रहीं। रिसर्च कंपनी टीआरए (ट्रस्ट रिसर्च एडवाइजरी) की हाल ही में जारी हुई रिपोर्ट के मुताबिक भारत में ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन इंटरनेट पर सबसे ज्यादा विश्वसनीय ब्रांड है। इस लिस्ट में गूगल दूसरे और फेसबुक तीसरे नंबर पर रहा। डेटा एनालिसिस कंपनी की ब्रांड ट्रस्ट रिपोर्ट 2019 के मुताबिक सर्वे में 32 इंटरनेट ब्रांड को शामिल किया गया। व्हाट्सऐप को पीछे छोड़ते हुए भारत की मैसेजिंग ऐप हाइक ने चौथे पायदन पर अपनी जगह बनाई जबकि वॉट्सऐप 10 पायदान पर रही।

World’s most valuable brands

ऑनलाइन रूम बुकिंग करने वाली सर्विस प्रोवाइडर भारतीय कंपनी ओयो रूम इस लिस्ट में पांचवे पायदन पर अपनी जगह बनाने में कामयाब रही जबकि ऑनलाइन टैक्सी बुकिंग करने वाली भारतीय कंपनी ओला ने लिस्ट में छठवां स्थान हासिल किया जबकि यूएस बेस्ड ऑनलाइन टैक्सी बुक करने वाली कंपनी उबर ने 14वां स्थान हासिल किया। ऑनलाइन पेमेंट सर्विस देने वाली भारतीय कंपनी पेटीएम ने 19वें स्थान हासिल किया, जो अपनी कॉम्पिटीटर कंपनी पेपल से सिर्फ एक स्थान ही ऊपर है। रिपोर्ट पर टीआरए के सीईओ एन चंद्रमौली ने कहा कि इसमें कई इंडियन इंटरनेट बेस्ड स्टार्टअप कंपनियां अपनी अपनी कैटेगरी में आगे है. इससे कहा जा सकता है कि वे ब्रांड जो प्रोफिट और ग्रोथ के साथ विश्वास बनाने में ज्यादा विश्वास रखते हैं वे ही अपने बिजनेस में आगे निकल पाएंगे।

Write a comment
bigg-boss-13