1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पेट्रोल-डीजल: डीजल की कीमतों ने तोड़ा रिकॉर्ड, पेट्रोल का भी दाम 'मोदीराज' के सबसे ऊपरी स्तर पर

पेट्रोल-डीजल: डीजल की कीमतों ने तोड़ा रिकॉर्ड, पेट्रोल का भी दाम 'मोदीराज' के सबसे ऊपरी स्तर पर

पेट्रोल-डीजल: देश में कभी भी डीजल इतने ज्यादा भाव पर नहीं बिका था जो भाव आज रविार के दिन देखने को मिला है, पेट्रोल की कीमतों में भी आग लगी हुई है

Manoj Kumar Manoj Kumar
Updated on: April 01, 2018 17:54 IST
Diesel price touches new record - India TV Paisa

Diesel price touches new record high and Petrol prices at high of PM Modi regime

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़ोतरी की वजह से घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं, डीजल का दाम तो अबतक की रिकॉर्ड ऊंचाई तक पहुंच गया है वहीं देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल के दाम प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल के सबसे अधिक दाम हैं।

चार महानगरों में डीजल नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर

इंडियन ऑयल के आंकड़ों के मुताबिक रविवार को देश की राजधानी दिल्ली में डीजल का दाम 64.58 रुपए, कोलकाता में 67.27 रुपए, मुंबई में 68.77 रुपए और चेन्नई में 68.12 रुपए प्रति लीटर दर्ज किया गया है। इन चारों महानगरों में डीजल कभी भी इतने ज्यादा भाव पर नहीं बिका था। दिल्ली से सटे अन्य शहरों में डीजल के दाम देखें तो वहां भी भाव ऊपरी स्तर पर हैं, फरीदाबाद में रविवार को डीजल का भाव 65.66 रुपए, गुरुग्राम में 65.45 रुपए, नोएडा में 64.83 रुपए और गाजियाबाद में 64.72 रुपए प्रति लीटर दर्ज किया गया है।

Diesel price

पेट्रोल का दाम मोदीराज का सबसे ऊपरी स्तर

पेट्रोल की बात करें तो देश की राजधानी दिल्ली में रविवार को पेट्रोल का दाम 73.73 रुपए प्रति लीटर दर्ज किया गया है जो दिल्ली में सितंबर 2013 के बाद सबसे अधिक भाव है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मई 2014 में कार्यभार संभाला ता ऐसे में दिल्ली में पेट्रोल का भाव प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल के सबसे ऊपरी स्तर पर पहुंच गया है, रविवार को कोलकाता में पेट्रोल का दाम 76.44 रुपए, मुंबई में 81.59 रुपए और चेन्नई में 76.48 रुपए प्रति लीटर दर्ज किया गया है।

Petrol prices

इस वजह से महंगे हुए पेट्रोल और डीजल

पिछले कुछ समय से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में जोरदार बढ़ोतरी हुई है, ऊपर से भारतीय करेंसी रुपए में भी गिरावट आई है, इन वजहों से देश की ऑयल मार्केटिंग कंपनियों की लागत बढ़ गई है और उन्हें पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरने करने पर मजबूर होना पड़ा है, इस हफ्ते अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव फिर से 70 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर दर्ज किया गया है साथ में रुपये में 21 पैसे की गिरावट आई है और डॉलर का भाव बढ़कर 65.18 रुपए हो गया है।

Write a comment