1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. आयकर विभाग ने सर्वे का दायरा बढ़ाया, 100 करोड़ रुपए की ज्यादा बिक्री, नकदी पकड़ी

आयकर विभाग ने सर्वे का दायरा बढ़ाया, 100 करोड़ रुपए की ज्यादा बिक्री, नकदी पकड़ी

कारोबारियों व सटोरियों द्वारा कथित चोरी व मुनाफा कमाने की खबरों के मद्देनजर इनकम टैक्‍स विभाग ने अपने सर्वे का दायरा बढ़ा दिया है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Updated on: November 12, 2016 14:45 IST
इनकम टैक्‍स विभाग ने बढ़ाया सर्वे का दायरा, पकड़ी 100 करोड़ रुपए से ज्‍यादा की अघोषित नकदी- India TV Paisa
इनकम टैक्‍स विभाग ने बढ़ाया सर्वे का दायरा, पकड़ी 100 करोड़ रुपए से ज्‍यादा की अघोषित नकदी

नई दिल्‍ली। 500 व 1000 रुपए के मौजूदा करंसी नोटों को बंद किए जाने के बीच कारोबारियों व सटोरियों द्वारा कथित चोरी व मुनाफा कमाने की खबरों के मद्देनजर इनकम टैक्‍स विभाग ने अपने सर्वे का दायरा बढ़ाते हुए 100 करोड़ रुपए की अघोषित नकदी व बिक्री का पता लगाया है। ऐसा कहा जा रहा है कि पुराने नोटों के बंद होने के कारण कारोबारी व सटोरिए पुराने नोटों को बदलने में मुनाफा कमा रहे हैं और इसमें टैक्‍स चोरी का भी प्रयास कर रहे हैं।

इस बीच वित्त मंत्रालय ने पुलिस व अर्धसैनिक बलों से कहा है कि वे असैन्य हवाई अड्डों, दिल्ली मेट्रो, रेलवे स्टेशनों पर बस अड्डों पर विशेषकर 500 व 1000 रुपए के नोटों वाली राशि भारी मात्रा में लाए ले जाने पर निगाह रखें।

  • इनकम टैक्‍स विभाग ने दिल्ली, बेंगलुरु, कोलकाता व मुंबई में अनेक प्रमुख बाजारों व दुकानों को अपने सर्वे के दायरे में लिया है।
  • इन स्थानों पर एक तरह से अघोषित नकदी व बिक्री दस्तावेज मिले हैं। यानी इस नकदी व बिक्री का उल्लेख कहीं नहीं किया गया।
  • सर्वे कार्य का विस्तार किया गया है और ज्यादा बिक्री व नकदी का पता चला है।
  • विभिन्न शहरों में कुल मिलाकर इस तरह की 100 करोड़ रुपए मूल्य की ज्यादा बिक्री या नकदी पकड़ी गई है।
  • इन मामलों में जांच की जाएगी तथा सम्बद्ध कारोबारियों, व्यापरियों से लेनदेन की जानकारी देने को कहा गया है।
  • विभाग ने बिक्री से जुड़े कुछ दस्तावेज भी जब्त किए हैं और सटोरियों, जौहरियों से इस बारे में ब्यौरा देने को कहा गया है।
  •  उत्पाद शुल्क अधिकारियों ने देश भर में 25 शहरों में 600 से अधिक जौहरियों से सोने व जवाहरात की बिक्री का ब्यौरा मांगा है।
  • डीजीसीईआई ने इन जौहरियों को नोटिस भेजकर सात नवंबर के बाद से बीते चार दिनों में सोने की बिक्री का ब्यौरा मांगा है।
  • जौहरियों से अपने स्टॉक की मात्रा व बिक्री की जानकारी देने को कहा गया है।
  • दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, अहमदाबाद, बेंगलुरु, हैदराबाद, भोपाल, विजयवाड़ा, नासिक व लखनऊ के जौहरी जांच दायरे में हैं।
  • इस तरह की प्रक्रिया बाद में अन्य शहरों में भी अपनाई जा सकती है।
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban