1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. GST Effect : ग्राहकों को बिजली से चलने वाले घरेलू सामान की खरीद में ढीली करनी पड़ेगी जेब

GST Effect : ग्राहकों को बिजली से चलने वाले घरेलू सामान की खरीद में ढीली करनी पड़ेगी जेब

GST लागू होने के बाद बिजली उपकरणों एवं कंज्‍यूमर ड्यूरेबल सामानों के दाम बढ़ गए हैं। त्यौहारी सीजन से पहले एक बार फिर बढ़ सकते हैं दाम।

Manish Mishra [Published on:01 Jul 2017, 6:47 PM IST]
GST Effect : ग्राहकों को बिजली से चलने वाले घरेलू सामान की खरीद में ढीली करनी पड़ेगी जेब- India TV Paisa
GST Effect : ग्राहकों को बिजली से चलने वाले घरेलू सामान की खरीद में ढीली करनी पड़ेगी जेब

नई दिल्ली घरेलू जरूरत के इलेक्ट्रिक सामान खरीदने की योजना बना रहे लोगों को आज से अपनी जेब थोड़ी और ढीली करनी पड़ेगी क्योंकि GST लागू होने के बाद ऐसे बहुत से उपकरणों एवं कंज्‍यूमर ड्यूरेबल सामानों के दाम बढ़ गए हैं। कंज्‍यूमर ड्यूरेबल निर्माता त्यौहारी सीजन से पहले एक बार फिर दाम बढ़ा सकते हैं क्योंकि संबंधित उद्योग कच्चे माल और कल पुर्जों का पुराना स्टॉक खत्म होने के बाद उत्पादन के साधनों पर लगने वाले शुल्कों के लाभ के आधार पर मूल्य समीक्षा करने का विचार कर रहा है।

यह भी पढ़ें : GST लागू होने के बाद गर्मियों में सर्द हो सकती है जेब, ढाई फीसदी तक बढ़ सकती है AC की कीमतें

गोदरेज अप्लायंसेज के कारोबारी प्रमुख और कार्यकारी उपाध्यक्ष कमल नंदी ने कहा कि हमारे क्षेत्र के लिए शुद्ध रुप से कर का बोझा बढ़ेगा। वर्तमान कर दर करीब 25-27ञ है जो बढ़कर 28 फीसदी होगा। यदि ब्रांड और डीलर लाभ को पहले के स्तर पर बरकार रखना चाहेंगे तो इससे उपभोक्ता मूल्य, जो बाजार परिचालन का मूल्य बढ़ जाएगा। वीडियोकोन के सीओओ सीएम सिंह ने भी ऐसी ही राय व्यक्त की।

वैसे तो व्यापारिक साझेदार और डीलर 50 फीसदी तक रियायत देकर अपना पुरा स्टॉक खत्म कर रहे थे लेकिन कंपनियों के पास अब भी निर्मित एवं कच्चा माल पड़ा है। उन्हें टैक्स क्रेडिट का लाभ उठाने तथा उसे GST के पूर्व स्तर पर लाने के लिए दो-तीन महीने लगेंगे।

यह भी पढ़ें : GST impact : भारत में iPhone, iPad, Mac, Apple Watch हुए सस्‍ते, Apple ने 7.5% तक घटाए दाम

Web Title: GST Effect : बिजली से चलने वाले घरेलू सामान होंगे महंगे
Write a comment