1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. जीएसटी से भारत में बढ़ेगा टैक्‍स का दायरा, भारतीय उद्योग होंगे अधिक प्रतिस्पर्धी

जीएसटी से भारत में बढ़ेगा टैक्‍स का दायरा, भारतीय उद्योग होंगे अधिक प्रतिस्पर्धी

उद्योग मंडल सीआईआई का मानना है कि जीएसटी से भारतीय उद्योग अधिक प्रतिस्पर्धी होंगे, निर्यात को प्रोत्साहन मिलेगा और कर का दायरा बढ़ाने में मदद मिलेगी।

Sachin Chaturvedi [Updated:02 Jul 2017, 4:27 PM IST]
जीएसटी से भारत में बढ़ेगा टैक्‍स का दायरा, भारतीय उद्योग होंगे अधिक प्रतिस्पर्धी- India TV Paisa
जीएसटी से भारत में बढ़ेगा टैक्‍स का दायरा, भारतीय उद्योग होंगे अधिक प्रतिस्पर्धी

सीआईआई अध्यक्ष शोभना कामिनेनी ने कहा, पासा पलटने वाला जीएसटी के क्रियान्‍वयन के साथ नये युग में कदम रखा है। यह दुनिया के लिये मिलकर किये गये सुधार का बेजोड़ उदाहरण है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में वस्‍तु एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यापार सुगमता को बढ़ाएगा और नये व्यापार उद्यमों में तेजी लाएगा। यह भी पढ़ें : जेटली ने कहा, जब उपभोक्ता परेशान नहीं तो कुछ व्यापारी ही GST को लेकर क्‍यों मचा रहे हैं शोर

सीआईआई अध्यक्ष ने कहा कि जीएसटी में कच्चे माल पर दिये गये कर की वापसी (इनपुट टैक्स क्रेडिट) के साथ स्व-अनुपालन की बात कही गयी है। यह कंपनियों के लिये कर अदायगी के संदर्भ में प्रोत्साहन देने वाला कदम है। उन्होंने कहा कि इनपुट टैक्स क्रेडिट से कर पर कर नहीं लगेगा जिससे मुद्रास्फीति पर लगाम लगेगी। हमें विश्‍वास है कि अधिकतर कंपनियां इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ ग्राहकों को देंगी ताकि महंगाई पर अंकुश लगे।

सीआईआई अध्यक्ष ने कहा कि उद्योग जीएसटी के क्रियान्‍वयन को लेकर तैयार है। उद्योग मंडल एसोचैम ने भी कहा कि पिछले चार साल में खुदरी कीमतों में धीमी गति से वृद्धि हो रही है, ऐसे में मुद्रास्फीति के नजरिये से जीएसटी का क्रियान्‍वयन का समय बिल्कुल उपयुक्त है।

Web Title: जीएसटी से बढ़ेगा टैक्‍स का दायरा
Write a comment