1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. ITC का मुनाफा 5.7 प्रतिशत बढ़ा, नोटबंदी से सिगरेट कारोबार पर पड़ा दबाव

ITC का मुनाफा 5.7 प्रतिशत बढ़ा, नोटबंदी से सिगरेट कारोबार पर पड़ा दबाव

विभिन्न कारोबार करने वाली आईटीसी (ITC) लिमिटेड का एकल शुद्ध लाभ दिसंबर में समाप्त तीसरी तिमाही में 5.71 प्रतिशत बढ़कर 2,646.73 करोड़ रुपए रहा।

Abhishek Shrivastava [Updated:27 Jan 2017, 4:53 PM IST]
ITC का मुनाफा 5.7 प्रतिशत बढ़ा, नोटबंदी से सिगरेट कारोबार पर पड़ा दबाव- India TV Paisa
ITC का मुनाफा 5.7 प्रतिशत बढ़ा, नोटबंदी से सिगरेट कारोबार पर पड़ा दबाव

नई दिल्ली। विभिन्न कारोबार करने वाली आईटीसी (ITC) लिमिटेड का एकल शुद्ध लाभ दिसंबर में समाप्त तीसरी तिमाही में 5.71 प्रतिशत बढ़कर 2,646.73 करोड़ रुपए रहा। इस बीच नोटबंदी के बाद मांग में नरमी से कंपनी का सिगरेट कारोबार दबाव में बना हुआ है।

आईटीसी ने पांच फरवरी से संजीव पुरी को सीईओ नियुक्त किया है, जो कि कार्यकारी नेतृत्व का स्वतंत्र प्रभार संभालेंगे। चेयरमैन वाईसी देवेश्वर उस दिन से मेंटर की भूमिका निभाएंगे। कंपनी ने गत वित्त वर्ष की इसी अवधि में 2503.76 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था।

  • आलोच्य तिमाही में कंपनी की कुल परिचालन आय 4.69 प्रतिशत बढ़कर 13,596.97 करोड़ रुपए रही। पूर्व वित्त वर्ष में यह 12,961.85 करोड़ रुपए रही थी।
  • कंपनी के बयान में कहा गया है,आलोच्य तिमाही में परिचालन माहौल बहुत ही चुनौतीपूर्ण रहा।
  • विशेषकर सरकार के नोटबंदी के फैसले के कारण उपभोक्ता व व्यापारिक मांग घटने से एफएमसीजी बिक्री पर काफी प्रतिकूल असर पड़ा।
  • कंपनी का कहना है कि इसका असर उसके सभी कारोबारी खंडों पर पड़ा लेकिन बिस्कुट, स्नैक नूडल, पर्सनल केयर उत्पादों व ब्रांड वाले परिधानों की बिक्री पर सबसे अधिक असर देखा गया।
  • सिगरेट सहित एफएमसीजी कारोबार से कपंनी का कारोबार 2.51 प्रतिशत बढ़कर 10,857.23 करोड़ रुपए हो गया।
  • आलोच्य तिमाही में कपंनी का सिगरेट कारोबार 2.24 प्रतिशत बढ़कर 8,287.97 करोड़ रुपए हो गया, जो कि एक साल पहले की समान अवधि में 8,106.31 करोड़ रुपए था।
Web Title: ITC का मुनाफा 5.7 प्रतिशत बढ़ा,सिगरेट कारोबार पर पड़ा दबाव
Write a comment