1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. चीनी अखबार का दावा: चीन के इन्वेस्टर्स भारत पहुंचने में हुए लेट, लेकिन आगे बना सकते हैं मोटा मुनाफा

चीनी अखबार का दावा: चीन के इन्वेस्टर्स भारत पहुंचने में हुए लेट, लेकिन आगे बना सकते हैं मोटा मुनाफा

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के अनुसार भारत के विनिर्माण क्षेत्र की तेज रफ्तार से निवेशक मोटा मुनाफा कमाएंगे और वहां से दूर रहना एक गलत फैसला होगा।

Ankit Tyagi [Published on:28 Oct 2016, 2:45 PM IST]
चीनी अखबार का दावा: चीन के इन्वेस्टर्स भारत पहुंचने में हुए लेट, लेकिन आगे बना सकते हैं मोटा मुनाफा- IndiaTV Paisa
चीनी अखबार का दावा: चीन के इन्वेस्टर्स भारत पहुंचने में हुए लेट, लेकिन आगे बना सकते हैं मोटा मुनाफा

नई दिल्ली। चीन के सरकारी मीडिया का मानना है कि भारत में निवेश करने वाली चीन की कंपनियों में उत्सुकता को कुछ अधिक बढ़ा  चढ़ाकर बताया जा रहा है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के अनुसार भारत के विनिर्माण क्षेत्र की तेज रफ्तार से निवेशक मोटा मुनाफा कमा सकते हैं और वहां से दूर रहना निश्चित रूप से एक अविवेकपूर्ण फैसला होगा।

सरकारी अखबार में हुआ खुलासा

  • ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित एक लेख में कहा गया है कि भारत के विनिर्माण क्षेत्र की तीव्र वृद्धि में अभी चीन की पूंजी का मामूली योगदान है।
  • नेशनल इंस्टिट्यूट आफ इंटरनेशनल स्ट्रैटेजी आफ चाइनीज अकादमी आफ सोशल साइंसेज के रिसर्च फेलो जी चेंग ने कहा, अगर दूसरे शब्दों में कहा जाए तो चीन के पास भारत के विनिर्माण विकास को सीमित करने की क्षमता नहीं है।
  • चीन सिर्फ चाइनीज निवेश को भारत के वृद्धि परिदृश्य में शामिल होने से रोक सकता है, जो कि एक अविवेकपूर्ण विकल्प होगा।

    लेख में कहा गया है कि भविष्य में भारतीय बाजार मोटा मुनाफा कमाएगा, जो सभी पक्षों के लिए लाभ की स्थिति होगी।

तस्वीरों में देखिए चाइनीज Lights

Diwali lights

light1IndiaTV Paisa

light4IndiaTV Paisa

light6IndiaTV Paisa

light5IndiaTV Paisa

light3IndiaTV Paisa

light2IndiaTV Paisa

light7IndiaTV Paisa

light8IndiaTV Paisa

चीन अपनी इकोनॉमी को सुधारने के लिए उठा रहा है कदम

  • चीन लगातार अपनी इकोनॉमी को सुधारने के लिए कदम उठा रहा है। माना जा रहा है कि हाल में दिए गए राहत पैकेज का असर भी कुछ और दिनों में देखने को मिलेगा।
  • हालांकि चीन की मुद्रा युआन की केंद्रीय समता दर शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले छह वर्षों के निचले स्तर तक पहुंच गई है।
  • चाइना फॉरेन एक्सचेंज ट्रेड सिस्टम के मुताबिक, युआन की केंद्रीय समता दर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 122 आधार अंक घटकर 6.7858 हो गई।
Web Title: भारत में मोटा मुनाफा कमा सकती हैं चीन की कंपनियां: सरकारी मीडिया
Write a comment