1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मंगलवार को चंद्रशेखर संभालेंगे टाटा ग्रुप की बागडोर, 150 साल के इतिहास में पहले गैर-पारसी चेयरमैन

मंगलवार को चंद्रशेखर संभालेंगे टाटा ग्रुप की बागडोर, 150 साल के इतिहास में पहले गैर-पारसी चेयरमैन

एन चंद्रशेखर मंलवार को टाटा ग्रुप की बागडोर संभालने जा रहे हैं। टाटा ग्रुप के 150 साल के इतिहास में इस पद के लिए चुने जाने वाले वे पहले गैर-पारसी हैं।

Dharmender Chaudhary Dharmender Chaudhary
Published on: February 20, 2017 15:39 IST
मंगलवार को चंद्रशेखर संभालेंगे टाटा ग्रुप की बागडोर, 150 साल के इतिहास में पहले गैर-पारसी चेयरमैन- India TV Paisa
मंगलवार को चंद्रशेखर संभालेंगे टाटा ग्रुप की बागडोर, 150 साल के इतिहास में पहले गैर-पारसी चेयरमैन

मुंबई। एन चंद्रशेखर मंलवार को देश के प्रमुख औद्योगिक घराने टाटा ग्रुप की बागडोर संभालने जा रहे हैं। टाटा ग्रुप के 150 साल के इतिहास में इस पद के लिए चुने जाने वाले वे पहले गैर-पारसी हैं। उम्मीद की जा रही है कि 54 वर्षीय चंद्रशेखर इस औद्योगिक घराने को निदेशक मंडल में हाल ही में मचे घमासान के साए से निकालते हुए भविष्य की विकास की राह पर ले जाएंगे।

चंद्रशेखर को देश की सबसे बड़ी साफ्टवेयर निर्यातक कंपनी टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज टीसीएस को उस मुकाम पर पहुंचाने का श्रेय जाता है जिस पर आज वह है। वे टाटा समूह की अनेक परिचालन कंपनियों की प्रवर्तक फर्म टाटा संस के नए चेयरमैन होंगे। उन्हें 12 जनवरी को टाटा संस का चेयरमैन नियुक्त किया गया।

चंद्रशेखर ने पिछले सप्ताह ही कहा था कि नयी जिम्मेदारी बहुत बड़ा काम है जहां अनेक चुनौतियों व अवसर हैं। इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि नए पद पर वे कुछ अलग कर पाएंगे। इस पद पर चंद्रशेखर के समक्ष पहली सबसे बड़ी चुनौती समूह की इस्पात कंपनी टाटा स्टील के यूरोपीय परिचालन को लेकर है।

टाटा स्टील की काटामाटी खान को पुरस्कार 

  • टाटा स्टील की काटामाटी लौह खान को सबसे बेहतर हरित प्रतिष्ठान पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
  • मुंबई में वर्ल्‍ड सीएसआर डे द्वारा हरित उपायों को बढ़ावा देने पर आयोजित ग्लोबल ग्रीन फ्यूचर लीडरशिप अवार्ड समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • कंपनी के बयान में कहा गया है कि काटामाटी आयरन माइन के प्रमुख खनन परिचालन राहुल किशोर ने कनाडा के महावाणिज्य दूत जोर्डन रीव्स से यह पुरस्कार ग्रहण किया।
Write a comment