1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. छत्तीसगढ़ में दो हजार नए टावर लगाए जाएंगे: रविशंकर प्रसाद

छत्तीसगढ़ में दो हजार नए टावर लगाए जाएंगे: रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) आगामी दो वर्षों में दो हजार नए टावर लगाएगा।

Sachin Chaturvedi [Published on:27 Jun 2016, 8:13 AM IST]
नक्‍सल क्षेत्रों में होगा टेलिकॉम सुविधाओं का विस्‍तार, छत्तीसगढ़ में लगेंगे 2000 नए कम्‍युनिकेशन टावर- IndiaTV Paisa
नक्‍सल क्षेत्रों में होगा टेलिकॉम सुविधाओं का विस्‍तार, छत्तीसगढ़ में लगेंगे 2000 नए कम्‍युनिकेशन टावर

रायपुर। केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) आगामी दो वर्षों में दो हजार नए टावर लगाएगा, जिससे यहां संचार व्यवस्था में और सुधार होगा। प्रसाद ने कहा कि छत्तीसगढ़ में अगले दो वर्षों में मोबाइल कनेक्टिविटी को मजबूत करने के लिए दो हजार नए टावर लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्य में मोबाइल संचार व्यवस्था में और सुधार के लिए 16 सौ टावरों की मांग केंद्र सरकार ने की थी। इस संबंध में बीएसनएल के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद राज्य में दो हजार नए टावर लगाने की अनुमति दे दी गई है। इससे पहले केंद्रीय मंत्री प्रसाद और मुख्यमंत्री रमन सिंह ने वामपंथी उग्रवाद प्रभावित बस्तर क्षेत्र के लिए नए 146 टावरों का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने बस्तर क्षेत्र के थानेदारों से बात भी की।

प्रसाद ने कहा कि राज्य में नक्सली क्षेत्र में सड़क, बिजली आपूर्ति, स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी सुविधाओं को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं। लेकिन सरकार चाहती है कि इस क्षेत्र में बेहतर संचार सुविधा से लोग जुड़ें। आज इस क्षेत्र में 146 मोबाइल टावरों का लोकार्पण किया गया। आने वाले समय में जल्द ही 35 और नए टावरों की स्थापना की जाएगी। प्रसाद ने कहा कि राज्य में आने वाले समय में 220 नए स्थानों पर वाईफाई की सुविधा दी जाएगी। राज्य में वर्तमान में 27 जगहों पर वाईफाई की सुविधा है। अगले डेढ़ साल में 220 स्थानों पर यह सुविधा दी जाएगी। यह सुविधा राज्य के पर्यटन स्थलों पर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आने वाले समय में देश में भारत आप्टिकल फाइबर नेटवर्क के माध्यम से 2.5 लाख ग्राम पंचायतों को जोड़ा जाएगा। देश में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के शासन काल को चार लेन, छह लेन सड़कों और राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए जाना जाता है। अब मोदी सरकार को सूचना राजमार्ग के लिए जाना जाएगा।

मंत्री ने कहा, देश में ग्राम पंचायतों को आप्टिकल फाइबर के माध्यम से जोड़ने का कार्य वर्ष 2011 में शुरू किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के शासनकाल में केवल 358 किलोमीटर ही आप्टिकल फाइबर केबल बिछ पाया था लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की सरकार में दो सालों में 1.22 लाख किलोमीटर आप्टिकल फाईबर केबल बिछाया गया है। यह इस सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि छत्तीगसढ़ में आप्टिकल फाइबर केबल बिछाने का काम लगभग 80 फीसदी हो गया है। इसके माध्यम से ग्राम पंचयतों को जोड़ा जा रहा है। राज्य के अंदरूनी इलाके बलरामपुर जिले में भी आप्टिकल फाइबर केबल बिछाया जा चुका है। आने वाले समय में इसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। मंत्री ने कहा कि देश की आबादी 125 करोड़ है, जिनमें से 102 करोड़ आबादी मोबाइल फोन का इस्तेमाल करती है। वहीं 101 करोड़ लोगों के पास आधार है और 40 करोड़ लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं।

प्रसाद ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि दिल्ली से एक सौ रूपए चलता है, तब 15 रूपए लोगों के पास पहुंच पाता है। लेकिन अब इस सरकार में एक सौ रूपए दिल्ली से चलता है और एक सौ रूपए ही लोगों के पास पहुंचता है। वहीं छत्तीसगढ़ में रायपुर से भी एक सौ रूपए चलकर सुदूर बलरामपुर जिले तक एक सौ रूपए पहुंचता है। यह देश में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर का फायदा है। मंत्री ने कहा कि इस प्रौद्योगिकी के माध्यम से देश ने 36500 करोड़ रूपए बचा लिया है। केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारतीय डाक सेवा के माध्यम से आने वाले चलित एटीएम शुरू किये जाएंगे। यह अंदरूनी क्षेत्रों के लिए वरदान साबित होगा। इस योजना में लगभग 1.5 लाख डाकिया को शामिल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- Making India Digital: देशभर में इंटरनेट कनेक्टिविटी का सपना होगा साकार, BSNL लगाएगी 20,000 Wi-Fi हॉटस्टॉप

Web Title: छत्तीसगढ़ में दो हजार नए टावर लगाए जाएंगे: रविशंकर प्रसाद
Write a comment