1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. BSNL कर रही है देश में 5G लॉन्‍च करने की तैयारी, सरकार से मांगी 700 MHz बैंड के इस्‍तेमाल की मंजूरी

BSNL कर रही है देश में 5G लॉन्‍च करने की तैयारी, सरकार से मांगी 700 MHz बैंड के इस्‍तेमाल की मंजूरी

BSNL को उम्‍मीद है कि उसे देश में 4G सर्विस शुरू करने और भविष्‍य में 5G सर्विस के लिए 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में एयरवेज इस्‍तेमाल की मंजूरी जल्‍द मिल जाएगी।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: July 31, 2017 13:48 IST
BSNL कर रही है देश में 5G लॉन्‍च करने की तैयारी, सरकार से मांगी 700 MHz बैंड के इस्‍तेमाल की मंजूरी- India TV Paisa
BSNL कर रही है देश में 5G लॉन्‍च करने की तैयारी, सरकार से मांगी 700 MHz बैंड के इस्‍तेमाल की मंजूरी

नई दिल्‍ली। सार्वजनिक क्षेत्र की टेलीकॉम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) को पूरी उम्‍मीद है कि उसे देश में 4G सर्विस शुरू करने और भविष्‍य में 5G सर्विस के लिए 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में एयरवेज के इस्‍तेमाल की सरकार से मंजूरी जल्‍द मिल जाएगी। बीएसएनएल के चेयरमैन अनुपम श्रीवास्‍तव ने बताया कि उन्‍होंने टेलीकॉम डिपार्टमेंट को 4G सर्विस शुरू करने के लिए 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में एयरवेज आवंटित करने के लिए पत्र लिखा है।

श्रीवास्‍तव ने बताया कि 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 5 मेगाहर्ट्ज के 6 स्‍लॉट पहले से ही उपलब्‍ध हैं और हमनें उसमें से एक स्‍लॉट बीएसएनएल को आवंटित करने की मांग की है। उन्‍होंने कहा कि हम भविष्‍य में इस स्‍लॉट की मदद से अल्‍ट्रा-हाई स्‍पीड 5G सर्विस भी शुरू करने की योजना बना रहे हैं। इसके लिए बीएसएनएल चीन की टेलीकॉम उपकरण बनाने वाली कंपनी जेडटीई के साथ गठबंधन करने जा रही है। इससे पहले बीएसएनएल फि‍नलैंड की कंपनी नोकिया के साथ भी 5G सर्विस के लिए ऐसा गठबंधन कर चुकी है।

बीएसएनएल के चेयरमैन ने बताया कि ग्रामीण और घनी आबादी वाले शहरी इलाकों में 5G सर्विस के लए 700 मेगाहर्ट्ज, इससे कम के बैंड और बिना लाइसेंस वाले बैंड जैसे 2.5 गीगा हर्ट्ज और 5.2 गीगा हर्ट्ज का इस्तेमाल देश में इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) सेवाओं के लिए किया जाएगा।  बीएसएनएल जल्‍द ही चीन की कंपनी के साथ 5G और उसके बाद के प्रोग्राम के लिए समझौता कर सकती है।

श्रीवास्तव ने बताया कि जेडटीई के साथ गठबंधन व्यावसायिक नहीं होगा। इसमें हम पर कोई शर्त नहीं थोपी जाएगी। इसमें दुनिया में तकनीक के मामले में जो भी नया होगा, हमें उसके अपडेट्स मिलेंगे। चीन की कंपनी ने हाल ही में 5G रिसर्च में निवेश की रकम बढ़ाकर दोगुनी कर दी है। पिछले साल उसने रिसर्च में 1 अरब युआन का निवेश किया था, जबकि अब वह इस पर 2 अरब युआन यानी 29.55 करोड़ डॉलर खर्च कर रही है।

भारत में 5G टेक्नोलॉजी का उपयोग यूरोप और दुनिया के दूसरे देशों से अलग ढंग से हो सकता है। भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने भी पिछले महीने कहा था कि 5जी पर कंपनी एग्रेसिव तरीके से काम करेगी और 4G से 5G में शिफ्टिंग पूरे देश में एक साथ होगी। भारत में 2021-22 में 5G टेक्नोलॉजी लॉन्च किए जाने की उम्मीद की जा रही है।

Write a comment