1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. प्रदूषण की गंभीरता पर सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली में तय समय से पहले वाहनों में लागू होगा BS-VI मानक

प्रदूषण की गंभीरता पर सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली में तय समय से पहले वाहनों में लागू होगा BS-VI मानक

सरकार ने दिल्ली में BS-VI स्तर के वाहन ईंधन की आपूर्ति निर्धारित समय से दो साल पहले एक अप्रैल 2018 से करने का निर्णय किया है।

Manish Mishra Manish Mishra
Updated on: November 15, 2017 17:03 IST
प्रदूषण की गंभीरता पर सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली में तय समय से पहले वाहनों में लागू होगा BS-VI मानक- India TV Paisa
प्रदूषण की गंभीरता पर सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली में तय समय से पहले वाहनों में लागू होगा BS-VI मानक

नई दिल्ली दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर को लेकर चिंता के बीच सरकार ने अहम फैसला किया है। सरकार ने दिल्ली में BS-VI स्तर के वाहन ईंधन की आपूर्ति निर्धारित समय से दो साल पहले एक अप्रैल 2018 से करने का निर्णय किया है। पहले इस ईंधन की आपूर्ति एक अप्रैल 2020 से होनी थी। पेट्रोलियम मंत्रालय ने इस संबंध में ऑयल मार्केटिंग कंपनियों से BS-VI स्तर के वाहन ईंधन को अप्रैल 2019 से पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (दिल्ली और उसके आसपास) में उपलब्ध कराने की संभावना पर भी विचार करने को कहा है।

मंत्रालय के इस कदम से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने में मदद मिलेगी। पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा जारी बयान के अनुसार,  दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर को देखते हुए मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों के साथ विचार-विमर्श कर BS-VI स्तर के वाहन ईंधन की आपूर्ति राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 1 अप्रैल 2020 के बजाए दो साल पहले एक अप्रैल 2018 से लागू करने करने का फैसला किया है।

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय इससे पहले एक अप्रैल 2017 से BS-IV स्तर के परिवहन ईंधन को देश भर में सफलतापूर्वक लागू कर चुका है। यह कदम वाहन उत्सर्जन में कमी लाने तथा ईंधन दक्षता में सुधार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फ्रांस में हुए संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन, COP 21, में जताई गई प्रतिबद्धता के अनुरूप है।

सरकार ने इस दिशा में आगे कदम उठाते हुए विभिन्न पक्षों के साथ विचार-विमर्श के बाद BS-IV से सीधे BS-VI में जाने का निर्णय किया ताकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जारी बेहतर गतिविधियों को अपनाया जा सके। तेल रिफाइनिंग कंपनियां बेहतर गुणवत्ता वाले BS-VI स्तर के ईंधन उत्पादन के लिये परियोजनाओं के उन्नयन में काफी निवेश कर रही हैं।

यह भी पढ़ें : सिर्फ एक ऐप के जरिए उठाएं विभिन्‍न सरकारी सेवाओं के लाभ, गैस बुकिंग से लेकर अपना EPF खाता भी कर सकते हैं चेक

यह भी पढ़ें : ई-कॉमर्स बाजार में तेज होने वाली है लड़ाई, फ्लिपकार्ट को टक्‍कर देने अमेजन ने किया 2,900 करोड़ का नया निवेश

Write a comment