1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भाजपा है देश की सबसे धनी राजनीतिक दल, कांग्रेस दूसरे नंबर पर: ADR

भाजपा है देश की सबसे धनी राजनीतिक दल, कांग्रेस दूसरे नंबर पर, यहां से मिलता है दोनो को पैसा: ADR

ADR की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान देश के 7 राष्ट्रीय राजनीतिक दलों ने कुल मिलाकर 1559.17 करोड़ रुपए की कमाई की है इसमें से 1228.26 करोड़ रुपए का खर्च किया है

Manoj Kumar Manoj Kumar
Published on: April 10, 2018 16:45 IST
BJP is richest national party- India TV Paisa

BJP is richest national party with total income Rs 1034 cr in FY17 says ADR 

नई दिल्ली।  भारतीय जनता पार्टी देश का सबसे धनी राजनीतिक दल है जबकि कांग्रेस इस मामले में दूसरे नंबर पर है, यह जानकारी एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) की तरफ से जारी की गई रिपोर्ट से सामने आई है। ADR ने इस जानकारी के लिए राजनीतिक दलों की तरफ से चुनाव आयोग में वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान दी गई जानकारी को आधार बनाया है।

7 राष्ट्रीय दलों को हुई कुल कमाई

ADR की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान देश के 7 राष्ट्रीय राजनीतिक दलों यानि भाजपा, कांग्रेस, बसपा, सीपीएम, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, सीपीआई और तृणमूल कांग्रेस ने कुल मिलाकर 1559.17 करोड़ रुपए की कमाई की है इसमें से 1228.26 करोड़ रुपए का खर्च किया है।

कमाई और खर्च का हिसाब

रिपोर्ट के मुताबिक कुल 1559.17 करोड़ रुपए में से भाजपा की कुल कमाई 1034.27 करोड़ रुपए दर्ज की गई है जिसमें से 710.057 करोड़ रुपए का खर्च हुआ है, यानि वित्तवर्ष 2016-17 के दौरान भाजपा को 324.213 करोड़ रुपए की कमाई हुई है। जबकि दूसरी तरफ कांग्रेस को 2016-17 में 225.36 करोड़ रुपए की कमाई हुई है और उसका खर्च कमाई से कहीं ज्यादा यानि 321.66 करोड़ रुपए दर्ज किया गया है।

भाजपा ने पिछले साल से की ज्यादा कमाई

रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी को वित्तवर्ष 2015-16 के मुकाबले 2016-17 के दौरान 81 प्रतिशत ज्यादा कमाई हुई है जबकि कांग्रेस की कमाई में करीब 14 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। 2015-16 के दौरान भाजपा को 570.86 करोड़ रुपए और कांग्रेस को 261.56 करोड़ रुपए की कमाई हुई थी।

इन जगहों से मिलता है भाजपा और कांग्रेस को पैसा

रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा की कमाई में अधिकतर हिस्सेदारी ऐच्छिक योगदान की है, इसके अलावा ब्याज से होने वाली कमाई और कार्यकर्ताओं और सदस्यों से वसूली जाने वाली फीस से होने वाली कमाई की ज्यादा हिस्सेदारी है। वित्तवर्ष 2016-17 में भाजपा को को हुई कुल 1034.27 करोड़ रुपए की कमाई में से 94.41 प्रतिशत यानि 997.12 करोड़ रुपए ऐच्छिक योगदान से मिले हैं जबकि 3.02 प्रतिशत यानि 31.18 करोड़ रुपए ब्याज से आए हैं और बाकी 4.29 करोड़ रुपए कार्यकर्ताओं से ली गई  फीस या सदस्यता शुल्क है।

वहीं कांग्रेस की 225.36 करोड़ रुपए की कमाई से 51.32 प्रतिशत यानि 115.644 करोड़ रुपए कूपन जारी करके हुए कमाई है, 50.626 करोड़ रुपए दान के तौर पर मिले हैं और 43.89 करोड़ रुपए ब्याज से होने वाली कमाई है।

Write a comment