1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. देवास में सेना की मदद से छप रहे हैं नोट, देश भर में पहुंचाने के लिए भी ली जा रही है हेल्‍प

देवास में सेना की मदद से छप रहे हैं नोट, देश भर में पहुंचाने के लिए भी ली जा रही है हेल्‍प

नोटबंदी के बाद देवास स्थित बैंक नोट मुद्रणालय (BNP) में नए नोटों की छपाई शुरू है। बड़े पैमाने पर हो रही नए नोटों की छपाई में सेना की मदद भी ली जा रही है।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: December 12, 2016 17:05 IST
देवास में सेना की मदद से छप रहे हैं नोट, देश भर में पहुंचाने के लिए भी ली जा रही है हेल्‍प- India TV Paisa
देवास में सेना की मदद से छप रहे हैं नोट, देश भर में पहुंचाने के लिए भी ली जा रही है हेल्‍प

देवास। नोटबंदी के बाद मध्य प्रदेश के देवास स्थित बैंक नोट मुद्रणालय (BNP) में नए नोटों की छपाई शुरू है। बड़े पैमाने पर हो रही नए नोटों की छपाई में सेना की मदद ली जा रही है। छपे नोटों को देश भर में पहुंचाने में भी सेना का सहयोग लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : लाइसेंस रद्द होने की खबर पर एक्सिस बैंक ने दी सफाई, कहा झूठी है खबर

ग्रेनेडियर्स रेजीमेंट के 200 जवान पहुंच चुके हैं देवास

  • BNP के सूत्रों के मुताबिक, ग्रेनेडियर्स रेजीमेंट के 200 जवान रविवार को ही ग्वालियर से देवास पहुंच गए।
  • ये जवान नोटों की छपाई और ढुलाई के काम में मदद करेंगे।
  • इस प्रेस में इस समय सिर्फ 500 के नोट ही छापे जा रहे हैं।
  • सूत्रों के अनुसार, BNP (देवास) में नोटबंदी के बाद दूसरे नोटों की छपाई बंदकर सिर्फ 500 के नोट ही छापे जा रहे हैं।
  • यहां एक दिन में लगभग दो करोड़ नोटों की छपाई हो रही है।
  • सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी नोट छपाई के काम में लगाया गया है। यहां 24 घंटे नोटों की छपाई जारी है।
  • कर्मचारियों की कमी के चलते सेना की मदद ली जा रही है।

तस्‍वीरों में देखिए नकदी के अभाव में लोग ऐसे भी ले रहे हैं भुगतान

Paytm

1 (110)IndiaTV Paisa

2 (102)IndiaTV Paisa

4 (102)IndiaTV Paisa

3 (102)IndiaTV Paisa

यह भी पढ़ें : 500, 1000 के नोटों को समाप्त करने के लिए RBI कानून में संशोधन करेगी सरकार, आगामी बजट में होगा उल्‍लेख

नोटबंदी के बाद लोगों की अमदनी और खर्च घटे

  • लोकल सर्कल्स के एक सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा गया है कि नोटबंदी के बाद देश के लोगों की आमदनी और खर्च में कमी आई है।
  • बिहार, झारखंड और ओडिशा जैसे राज्य नोटबंदी से सबसे अधिक प्रभावित रहे हैं।
  • सर्वेक्षण में देश के 220 जिलों के 15,000 लोगों की राय ली गयी।
  • 20 प्रतिशत ने कहा कि इस कदम के बाद उनकी आय प्रभावित हुई है, वहीं 48 प्रतिशत ने कहा कि नोटबंदी के बाद उनका खर्च घटा है।
Write a comment