1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. NCUI ने सरकार से की मांग, DCCB को 500 और 1000 के पुराने नोट बदलने और जमा करने की मिले अनुमति

NCUI ने सरकार से की मांग, DCCB को 500 और 1000 के पुराने नोट बदलने और जमा करने की मिले अनुमति

NCUI के एक प्रतिनिधि मंडल ने सरकार से मांग की है कि जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों (DCCB ) को पुराने अप्रचलित नोटों को बदलने व जमा करने की अनुमति दी जाए।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: December 06, 2016 19:38 IST
NCUI ने सरकार से की मांग, DCCB को 500 और 1000 के पुराने नोट बदलने और जमा करने की मिले अनुमति- India TV Paisa
NCUI ने सरकार से की मांग, DCCB को 500 और 1000 के पुराने नोट बदलने और जमा करने की मिले अनुमति

नई दिल्ली। नेशनल कॉपरेटिव यूनियन आफ इंडिया (NCUI) की अगुवाई वाले एक प्रतिनिधि मंडल ने सरकार से मांग की है कि जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों (DCCB ) को पुराने अप्रचलित नोटों को बदलने व जमा करने की अनुमति दी जाए। नेशनल फेडरेशन ऑफ स्टेट कापरेटिव बैंक्स लिमिटेड ने इस बारे में कल वित्त मंत्री अरुण जेटली को ज्ञापन सौंपा। फेडरेशन इस प्रतिनिधि मंडल का हिस्सा था।

यह भी पढ़ें : Tumbles: सोना हुआ दो दिन में 450 रुपए सस्ता, कीमतें 29000 रुपए के नीचे फिसली

NCUI ने एक बयान में कहा है

केंद्रीय वित्त मंत्री ने आश्वासन दिया कि वह इस बारे में नाबार्ड के चेयरमैन तथा आरबीआई के गवर्नर से बात करेंगे।

NCUI के अध्यक्ष व राज्यसभा सदस्य चंद्र पाल सिंह यादव की अगुवाई में प्रतिनिधि मंडल मंत्री से मिला और इस मुद्दे से उन्हें अवगत कराया।

मिस्त्री के काम की सराहना करते हैं स्वतंत्र निदेशक : टाटा पावर

साइरस मिस्त्री को निदेशक मंडल से हटाने के लिए टाटा पावर की असाधारण आम बैठक 26 दिसंबर को बुलाई गई है। इससे पहले कंपनी ने कहा कि उसके निदेशक मंडल की मार्च, 2015 तथा मार्च, 2016 में हुई पिछली दो बैठकों में स्वतंत्र निदेशकों ने मिस्त्री के प्रदर्शन की सराहना की थी।

यह भी पढ़ें : Cash-On-Wheels: ओला कैब जल्द ही आपके घर तक पहुंचाएगी कैश, यस बैंक के साथ की साझेदारी

टाटा पावर ने शेयरधारकों को भेजे नोट में येे कहा

  • स्वतंत्र निदेशकों की बैठक मार्च, 2015 और मार्च, 2016 में हुई थी।
  • इन दोनों बैठकों में स्वतंत्र निदेशकों ने मिस्त्री के काम की सराहना की थी।
  • इस बारे में उनके समक्ष रखने के लिए कुछ खास नहीं है।
  • टाटा संस ने मिस्त्री को टाटा पावर के निदेशक पद से हटाने के लिए विशेष प्रस्ताव आगे बढ़ाया है।
  • इसी के मद्देनजर टाटा पावर ने 26 दिसंबर को ईजीएम बुलाई है।
  • इसमें मिस्त्री को निदेशक पद से हटाने के लिए शेयरधारकों की मंजूरी ली जाएगी। टाटा संस की टाटा पावर में 31.05 प्रतिशत की हिस्सेदारी है।

मिस्त्री के अलावा टाटा पावर के बोर्ड के अन्य सदस्यों में होमियार एस वाचा, नवशीर एच मिर्जा, दीपक एम सतवालेकर, अशोक के बसु, प्रवीण एच कुटुंबे, संध्या एस कुदतारकर, अंजली बंसल, विभा, पडाल्कर, संजय भंडारकर, अनिल सरदाना (एमडी एवं सीईओ) और अशोक एस सेठी शामिल हैं।

Write a comment
bigg-boss-13