1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. टेलीकॉम कंपनियों ने मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने के लिए दी अर्जी, अक्टूबर से शुरू होगी बोली

टेलीकॉम कंपनियों ने मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने के लिए दी अर्जी, अक्टूबर से शुरू होगी बोली

मौजूदा टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल, वोडाफोन व आइडिया सेल्यूलर और नई कंपनी रिलायंस जियो ने आगामी मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने का फैसला किया है।

Dharmender Chaudhary Dharmender Chaudhary
Published on: September 14, 2016 20:39 IST
टेलीकॉम कंपनियों ने मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने के लिए दी अर्जी, अक्टूबर से शुरू होगी बोली- India TV Paisa
टेलीकॉम कंपनियों ने मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने के लिए दी अर्जी, अक्टूबर से शुरू होगी बोली

नई दिल्ली। मौजूदा टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल, वोडाफोन व आइडिया सेल्यूलर और नई कंपनी रिलायंस जियो ने आगामी मेगा स्पेक्ट्रम नीलामी में भाग लेने का फैसला किया है। इन कंपनियों ने अगले महीने होने वाली इस नीलामी के लिए आवेदन किया है। सूत्रों ने बताया कि जिन अन्य कंपनियों ने नीलामी में भाग लेने की इच्छा जताई है उनमें रिलायंस कम्युनिकेशंस, एयरसेल और टाटा टेलीसर्विसेज भी शामिल है। इसके लिए अर्जी देने की आज अंतिम तारीख थी।

एक अक्टूबर से शुरू होगी नीलामी

इस नीलामी में भाग लेने के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख समाप्त होने के बाद दूरसंचार विभाग आवेदक कंपनियों के नाम कल प्रकाशित कर सकता है। आवेदन 22 सितंबर तक वापस लिए जा सकता है। यह नीलामी एक अक्टूबर से शुरू होगी और इसे अब तक की सबसे बड़ी स्पेक्ट्रम नीलामी माना जा रहा है। इस नीलामी के तहत 5.63 लाख करोड़ रुपए मूल्य का स्पेक्ट्रम बेचा जाना है और इच्छुक बोलीदाताओं से आज तक आवेदन पेश करने को कहा गया था। दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने हाल ही में कहा था कि स्पेक्ट्रम नहीं खरीदने वाली कंपनियां प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाएंगी। मंत्री को इस नीलामी में अच्छी भागीदारी की उम्मीद है। यह स्पेक्ट्रम नीलामी 700 मेगाहट्र्ज, 800 मेगाहट्र्ज, 900 मेगाहट्र्ज, 1800 मेगाहट्र्ज, 2100 मेगाहट्र्ज व 2300 मेगाहट्र्ज बैंड में होनी है।

रिलायंस जियो ने भारती एयरटेल के फैसले का स्वागत किया

रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड ने उसे और अधिक इंटरकनेक्शन प्वाइंट सुलभ कराने के भारती एयरटेल के फैसले का स्वागत किया है। कंपनी ने उम्मीद जताई है कि पुरानी कंपनियां उसे पर्याप्त संख्या में प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्शन उपलब्ध कराएंगी ताकि उसके नए ग्राहक सभी नेटवर्कों पर सुचारू कॉल कर सकें। रिलायंस जियो ने अपनी 4जी मोबाइल सेवाएं इसी महीने शुरू की हैं। उसकी शिकायत रही है कि एयरटेल, वोडाफोन व आइडिया आदि मौजूदा कंपनियां इंटरकनेक्शन के मामले में उसका सहयोग नहीं कर रहीं।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban