1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. प. बंगाल को वैश्विक निवेश सम्‍मेलन में मिले 2.20 लाख करोड़ रुपए के प्रस्‍ताव, अडानी ग्रुप करेगा 750 करोड़ का निवेश

प. बंगाल को वैश्विक निवेश सम्‍मेलन में मिले 2.20 लाख करोड़ रुपए के प्रस्‍ताव, अडानी ग्रुप करेगा 750 करोड़ का निवेश

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को बताया कि दो दिवसीय बंगाल वैश्विक कारोबारी सम्मेलन (बीजीबीएस) में कुल 2.20 लाख करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव राज्‍य सरकार को हासिल हुए हैं।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: January 17, 2018 18:50 IST
बंगाल वैश्विक कारोबारी सम्मेलन के दौरान मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी लक्ष्‍मी निवास मित्‍तल और मुकेश अंब- India TV Paisa
बंगाल वैश्विक कारोबारी सम्मेलन के दौरान मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी लक्ष्‍मी निवास मित्‍तल और मुकेश अंबानी के साथ।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को बताया कि दो दिवसीय बंगाल वैश्विक कारोबारी सम्मेलन (बीजीबीएस) में कुल 2.20 लाख करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव राज्‍य सरकार को हासिल हुए हैं। इनमें 20 लाख लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित हो सकते हैं।  बनर्जी ने सम्मेलन में कहा कि इस साल करीब 2.20 लाख्र करोड़ रुपए के नए निवेश प्रस्ताव मिले हैं। इनमें 20 लाख रोजगार के मौके पैदा करने की क्षमता है।  

उन्होंने कहा कि एक लाख रोजगार के अवसर अकेले रिलायंस इंडस्ट्रीज उपलब्ध कराएगी। कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कल इसकी घोषणा की थी। मुख्यमंत्री ने बताया कि दो दिन के सम्मेलन के दौरान 1,046 बी2बी, 40 बी2जी बैठकें आयोजित की गईं। इस दौरान खनन, बिजली, शिक्षा, अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी, एनिमेशन केंद्र, कौशल विकास, भंडार गृह, खाद्य प्रसंस्करण और पशु स्रोत विकास, परिवहन और चमड़ा क्षेत्रों में 110 से अधिक सहमति ज्ञापनों पर दस्तखत किए गए। 

सम्‍मेलन के दूसरे दिन उद्योगपति गौतम अडानी की अगुवाई वाले अडानी समूह ने कहा कि वह पश्चिम बंगाल के हल्दिया में कंपनी की खाद्य तेल रिफाइनरी की क्षमता को दोगुना करने के लिए 750 करोड़ रुपए का निवेश करेगा। समूह के प्रणव अडानी ने बंदरगाह, कृषि और बिजली क्षेत्रों में निवेश करने की दिलचस्पी दिखाई। 

अडानी ने कहा कि अगले पांच वर्षों में हल्दिया स्थित खाद्य तेल रिफाइनरी की क्षमता 1600 टन प्रतिदिन से बढ़कर दोगुना करने के लिए 750 करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। पैकेजिंग को भी 1200 टन से बढ़ाकर 1800 टन किया जाएगा। बिजली क्षेत्र को लेकर अडानी ने कहा कि वे पारेषण और अक्षय ऊर्जा में अपनी विशेषज्ञता की पेशकश करने के इच्छुक हैं। 

Write a comment