1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अभेद्य है आधार का बायोमेट्रिक डेटा, एक अरब बार प्रयास करने के बावजूद कोई हैक नहीं कर सकता : रविशंकर प्रसाद

अभेद्य है आधार का बायोमेट्रिक डेटा, एक अरब बार प्रयास करने के बावजूद कोई हैक नहीं कर सकता : रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आधार का बायोमेट्रिक डेटा पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि इस डेटा को एक अरब बार कोशिश करने पर भी कोई हैक नहीं कर सकता है।

Edited by: India TV Paisa Desk [Updated:16 Jul 2018, 2:35 PM IST]
Ravi Shankar Prasad- India TV Paisa

Ravi Shankar Prasad

पणजी। केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आधार का बायोमेट्रिक डेटा पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि इस डेटा को एक अरब बार कोशिश करने पर भी कोई हैक नहीं कर सकता है। रविशंकर प्रसाद यहां एक सार्वजनिक कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सिस्टम में मेरी अंगुलियों की छाप और आंख की पुतलियों के स्कैन सुरिक्षत हैं और अरब बार प्रयास करने पर भी उसमें सेंधमारी नहीं की जा सकती है। मंत्री ने कहा कि आधार के प्राधिकारी हर सेकंड एक करोड़ जांच करते हैं।

मंत्री ने सवालिया लहजे में कहा, "क्या आपको पता है कि हर तीन सेकंड पर हम कितनी बार सत्यापन करते हैं? तीन करोड़। क्या आपको पता है कि कितने बैंक खाते आधार से जुड़े हैं? 80 करोड़। और आधार आपकी घरेलू प्रौद्योगिकी है और संसद की मंजूरी के साथ पूरी तरह सुरक्षित है।"

उन्होंने कहा कि यह इतना कठिन है कि अगर मैं अंगुलियों की छाप और आंख की पुतलियों के स्कैन की जानकारी का खुलासा राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले के सिवा किसी अन्य परिचित व्यक्ति को करता हूं तो मेरे ऊपर अभियोग चल सकता है। हमने इसमें इस बात को समाविष्ट किया है।

प्रसाद ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि सरकार ने भारत को ज्यादा से ज्यादा डिजिटल बनाने के लिए तीव्र कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि भारत का डिजिटल प्रोफाइल क्या है? देश की 130 करोड़ की आबादी में 121 करोड़ मोबाइल फोन भारत में हैं। देश में 45 करोड़ स्मार्टफोन और 50 करोड़ से अधिक इंटरनेट कनेक्शन हैं। साथ ही, 122 करोड़ लोगों के पास आधार कार्ड हैं।

Web Title: अभेद्य है आधार का बायोमेट्रिक डेटा, एक अरब बार प्रयास करने के बावजूद कोई हैक नहीं कर सकता : रविशंकर प्रसाद
Write a comment