1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 70 प्रतिशत लोग चाहते हैं 1,000 रुपए के नोट की वापसी, छुट्टे पैसों के लिए करना पड़ रहा है दिक्‍कतों का सामना

70 प्रतिशत लोग चाहते हैं 1,000 रुपए के नोट की वापसी, छुट्टे पैसों के लिए करना पड़ रहा है दिक्‍कतों का सामना

नोटबंदी के 10 माह बीतने के बाद देश में करीब 70 प्रतिशत लोग चाहते हैं कि बंद किए गए 1,000 रुपए के नोट को वापस लाया जाए। यह दावा एक सर्वे में किया गया है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: September 12, 2017 20:32 IST
70 प्रतिशत लोग चाहते हैं 1,000 रुपए के नोट की वापसी, छुट्टे पैसों के लिए करना पड़ रहा है दिक्‍कतों का सामना- India TV Paisa
70 प्रतिशत लोग चाहते हैं 1,000 रुपए के नोट की वापसी, छुट्टे पैसों के लिए करना पड़ रहा है दिक्‍कतों का सामना

मुंबई। नोटबंदी के 10 माह बीतने के बाद देश में करीब 70 प्रतिशत लोग चाहते हैं कि बंद किए गए 1,000 रुपए के नोट को वापस लाया जाए। यह दावा एक सर्वे में किया गया है। उल्लेखनीय है कि पिछले साल नंवबर में सरकार ने 500 और 1,000 रुपए के नोटों को बंद कर दिया था। इसके स्थान पर 2,000 रुपए और 500 रुपए का नया नोट लाया गया था। लेकिन 1,000 रुपए के नोट को सरकार ने वापस नहीं उतारा।

हैदराबाद की एक स्थानीय खबर देने वाली एप कंपनी वे2ऑनलाइन ने अपने सर्वे के आधार पर दावा किया है कि सर्वे में शामिल करीब 69 प्रतिशत लोगों ने 1,000 रुपए के नोट की वापसी के पक्ष में मत दिया है। सर्वे के अनुसार करीब 62 प्रतिशत लोगों का कहना है कि नोटबंदी के बाद उन्हें छुट्टे पैसे के लिए बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, जबकि 38 प्रतिशत का कहना है कि उन्हें इसमें कोई परेशानी नहीं हुई है।

अगस्‍त में, भारतीय रिजर्व बैंक ने 500 और 2000 रुपए के बीच के अंतर को पाटने के लिए 200 रुपए का नया नोट पेश किया है। जब 200 रुपए के नए नोट से समस्‍या के समाधान के बारे में पूछा गया तो 67 प्रतिशत लोगों ने सकारात्‍मक उत्‍तर दिया, जबकि 17 प्रतिशत लोगों ने कहा कि नए नोट से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Write a comment