1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. वर्ष 2018 युवाओं के लिए लेकर आएगा बड़ी खुशखबरी, IT क्षेत्र में मिलेंगी दो लाख नौकरियां

वर्ष 2018 युवाओं के लिए लेकर आएगा बड़ी खुशखबरी, IT क्षेत्र में मिलेंगी दो लाख नौकरियां

बीता साल भारत में नौकरियों के लिए थोड़ा व्यवधान भरा रहा लेकिन वर्ष 2018 में नौकरियों का परिदृश्य बेहतर दिख रहा है। इस साल सूचना प्रौद्योगिकी (IT) क्षेत्र में दो लाख से अधिक नौकरियां मिलने की उम्मीद है।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: January 01, 2018 19:45 IST
IT Sector- India TV Paisa
IT Sector

नई दिल्ली। बीता साल भारत में नौकरियों के लिए थोड़ा व्यवधान भरा रहा लेकिन वर्ष 2018 में नौकरियों का परिदृश्य बेहतर दिख रहा है। इस साल सूचना प्रौद्योगिकी (IT) क्षेत्र में दो लाख से अधिक नौकरियां मिलने की उम्मीद है। विशेषज्ञों के मुताबिक भारतीय रोजगार बाजार तीव्र बदलाव के दौर से गुजर रहा है और इसका श्रेय आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के उभार को जाता है। इस बदलाव के दौर में खुद के कौशल को बेहतर बनाकर ही कर्मचारी अपनी नौकरी को बचाए रख सकते हैं।

ऑटोमशन के आने से जहां कई श्रेणी की नौकरियां जाएंगी, वहीं मोबाइल विनिर्माण, वित्तीय तकनीक और स्टार्टअप क्षेत्र में हालत बेहतर दिखते हैं। टीमलीज सर्विसेस की आईटी नौकरियों की महाप्रबंधक अल्का ढींगरा ने कहा कि वित्तीय सेवा क्षेत्र में सुधार और कारोबारों के डिजिटलीकरण एवं ऑटोमेशन में बढ़ते निवेश का परिणाम कारोबार वृद्धि के रुप में होने की उम्मीद है।

अल्का के मुताबिक नौकरियों में वृद्धि की एक और वजह नए नियोक्ताओं का आना है। वर्ष 2018 में करीब 20% अधिक नियोक्ता नौकरियां देंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग में 2018 में 1.8 लाख से दो लाख नई नौकरियों के अवसर पैदा होने की उम्मीद है। उन्होंने आगे कहा कि भारत डिजिटल इंडिया की तरफ आगे बढ़ रहा है। ऐसे में डिजिटल कौशल से लैस 50% अधिक कार्यबल की जरुरत होगी।

इसी तरह की बात अडोबी (ADOBE) इंडिया के उपाध्यक्ष (कर्मचारी अनुभव) अब्दुल जलील ने कही। उन्होंने कहा कि नयी तकनीकों ने डिजिटल कार्यस्थल और अर्थपूर्ण कर्मचारी अनुभव की जरुरत को बढ़ा दिया है। उच्च प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों का निर्माण करना एक चुनौती बना हुआ है। कार्यस्थल पर स्वाचालन से नए तरहे के रोजगार पैदा हो रहे हैं।

फिक्की-नैस्‍कॉम और ईवाई की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार 2022 तक भारत में 60 करोड़ कार्यबल के जुड़ने की उम्मीद है। यह नौ प्रतिशत वृद्धि को दिखाता है।

Write a comment