1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Union Cabinet: 11 लाख रेल कर्मचारियों को मिलेगा 78 दिनों का दिवाली बोनस, ई-सिगरेट पर लगा प्रतिबंध

Union Cabinet: 11 लाख रेल कर्मचारियों को मिलेगा 78 दिनों का दिवाली बोनस, ई-सिगरेट पर लगा प्रतिबंध

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि कैबिनेट ने ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने को मंजूरी दी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: September 18, 2019 15:37 IST
11 lakh railway employees will get 78 days wage as bonus, to ban e-cigarettes- India TV Paisa
Photo:11 LAKH RAILWAY EMPLOYEES

11 lakh railway employees will get 78 days wage as bonus, to ban e-cigarettes

नई दिल्‍ली। सरकार ने रेलवे कर्मचारियों को दिवाली का तोहफा दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में 11 लाख रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन के वेतन के बराबर बोनस देने का फैसला किया है। इसके अलावा मंत्रिमंडल ने ई-सिगरेट की बिक्री और विज्ञापन पर भी प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद पत्रकारों को बताया कि 11 लाख रेलवे कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार ने लगातार 6वें साल रिकॉर्ड बोनस देने की घोषणा की है। रेलवे के 11,52,000 कर्मचारियों को दिवाली के मौके पर 78 दिन के वेतन के बराबर बोनस दिया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि यह रेलवे कर्मचारियों की उत्‍पादकता का पुरस्‍कार है।  

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि कैबिनेट ने ई-सिगरेट पर प्रतिबंध  लगाने को मंजूरी दी है।  ये सिफारिश मंत्री समूह ने की थी। ई-सिगरेट के उत्पादन, आयात-निर्यात, बिक्री और परिवहन सहित विज्ञापन पर भी प्रतिबंध लगाया गया है।

मंत्री ने बताया कि ई-हुक्‍का पर भी प्रतिबंध लगाया गया है और नियम के उल्‍लंघन पर सजा व जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है। उन्‍होंने कहा कि पहली बार उल्लंघन करने वाले को 1 साल की सजा या 1 लाख जुमार्ना या दोनों होगा। इसके बाद उल्लंघन करने पर 5 लाख जुर्माना या 3 साल की सजा या दोनों का प्रावधान है।


सीतारमण ने कहा कि ई-सिगरेट को बहुत से लोग और बच्चे स्टाइल स्टेटमेंट के तौर पर भी ले रहे थे। ये प्रचारित किया गया कि इससे धूम्रपान छूट जाएगा, जबकि  इसकी लत लगती है और यह स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है।

भारत में ई-सिगरेट का विनिर्माण नहीं होता है फ‍िर भी 150 से ज्यादा फ्लेवर वाली ऐसी 400 से ज्यादा तरह की ईसिगरेट यहां बिकती है। ये पीने वाले और साथ में खड़े होने वाले लोगों को भी नुकसान पहुंचाती है।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban