1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बजट 2019-20
  5. Union Budget 2019-20 पर शीर्ष उद्योगपतियों ने दी ये प्रतिक्रिया

Union Budget 2019-20 पर शीर्ष उद्योगपतियों ने दी ये प्रतिक्रिया

देश के शीर्ष उद्योगपतियों की बजट 2019-20 पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

Bhasha Bhasha
Published on: July 06, 2019 14:30 IST
top industrialists reaction on the Union Budget of india 2019-20- India TV Paisa

top industrialists reaction on the Union Budget of india 2019-20

नयी दिल्ली। देश के शीर्ष उद्योगपतियों की बजट 2019-20 पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। आरपीजी एंटरप्राइजेज के हर्ष गोयनका ने ट्वीट किया 'यह एक भविष्योन्मुखी एक ग्रिड-एक राष्ट्र केंद्रित बजट है। ईवी, स्वच्छ प्रौद्योगिकी,डिजिटल भुगतान,स्टार्टअप और ई-आकलन। वित्त मंत्री ने धोनी की तरह की परंपरागत पारी से हट कर हार्दिक पटेल की तरह स्ट्रोक लगाए हैं।' 

हिंदुजा ग्रुप आफ कंपनीज (इंडिया) के चेयरमैन अशोक आहूजा ने कहा कि राजग 2.0 ने ऐसा बजट पेश किया है जो देश को दीर्घावधि की वृद्धि की ओर ले जाएगा। जिससे 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। सरकार के वित्तीय क्षेत्र के तरलता के मुद्दे को हल करने के उपायों से ऋण बढ़ेगा और आर्थिक गतिविधियों को प्रोत्साहन मिलेगा। 

वेदांता रिसोर्सेज के कार्यकारी चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने कहा कि प्रगतिशील बजट 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य के लिए है। बजट प्रगतिशील और नतीजे देने वाला है। बायोकॉन की चेयरमैन किरण मजूमदार शॉ ने ट्वीट किया 'यदि 100 प्रतिशत कंपनियों को 25 प्रतिशत कॉरपोरेट कर के दायरे में लाया जाता तो इससे निवेशक, कारोबार और बाजार की धारणा को प्रोत्साहन मिलता।' 

महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्वीट किया, 'पहले मैंने ट्वीट किया था कि मुझे उम्मीद है निर्मला सीतारमण कुछ चौके लगाएंगी। इसके बजाय उन्होंने सिंगल के जरिये रन रेट को बढ़ाने का प्रयास किया। हालांकि, बड़े कदमों की उम्मीद थी लेकिन उन्होंने अपने निगाहें दीर्घावधि पर रखीं।' 

डियाजियो इंडिया के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी आनंद कृपालु ने कहा कि यह एक संतुलित बजट है, जो देश के लिए दीर्घावधि की सोच पर केंद्रित है। निवेश बढ़ाने के नीतिगत उपायों मेक इन इंडिया और कारोबार सुगमता के साथ देश की जल समस्या और जलवायु परिवर्तन से निपटने के उपायों से यह बजट सरकार की न्यू इंडिया की सोच के अनुरूप है, जिसका लक्ष्य समावेशी वृद्धि है। 

Write a comment