1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बजट 2019-20
  5. Interim Budget 2019-20: मिडिल क्लास को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, 5 लाख तक इनकम टैक्स फ्री

Interim Budget 2019-20: मिडिल क्लास को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, 5 लाख तक इनकम टैक्स फ्री Read In English

सरकार ने छोटे एवं सीमान्त किसानों को राहत देने के लिए उन्हें 6,000 सालाना की न्यूनतम आय देने की योजना पेश की है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को 2019-20 का बजट पेश करते हुए ‘‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि’’ (प्रधानमंत्री किसान योजना) की घोषणा की।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 01, 2019 13:43 IST
किसानों के लिए नई पीएम किसान योजना, किसानों के खाते में 6 हजार रुपए जाएंगे: पीयूष गोयल- India TV Paisa

किसानों के लिए नई पीएम किसान योजना, किसानों के खाते में 6 हजार रुपए जाएंगे: पीयूष गोयल

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से ढाई महीने पहले 125 करोड़ लोगों को उम्मीद है कि आज सबके लिए कुछ ना कुछ पीयूष गोयल के पिटारे में होगा। पीयूष गोयल हर तबके के लिए गिफ्ट का पिटारा खोल रहे हैं। फिर चाहे वो गरीब हो, या मध्यम वर्ग का हो या फिर कारोबारी हो। सरकार के मंत्री पहले ही कह चुके थे कि स्लॉग ओवर में सरकार कई छक्के लगाने वाली है, ऐसे में चुनाव से पहले ये बजट वो मौका है जब उम्मीद की जा रही है कि सरकार लोगों के लिए राहत का पिटारा खोल दे।​ सरकार ने छोटे एवं सीमान्त किसानों को राहत देने के लिए उन्हें 6,000 सालाना की न्यूनतम आय देने की योजना पेश की है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को 2019-20 का बजट पेश करते हुए ‘‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि’’ (प्रधानमंत्री किसान योजना) की घोषणा की। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बृहस्पतिवार को लोक सभा में अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा इस योजना से 12 करोड़ किसानों को लाभ मिलेगा। इसके तहत किसानों को हर साल 6,000 रुपये की सहायता प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) के जरिये किसानों के बैंक खाते में प्रदान की जाएगी। यह राशि उन्हें 2,000-2,000 रुपये की तीन किस्तों में दी जाएगी। पहली किस्त अगले महीने की 31 तारीख तक किसानों के खातों में डाल दी जाएगी। 

Interim Budget 2019-20 Live Updates

-यदि 6.5 लाख रुपये तक की कमाई करने वाले प्रोविडेंट फंड और अन्य इक्विटीज में निवेश करते हैं तो कोई टैक्स नहीं देना होगा: पीयूष गोयल

-स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40 हजार रुपये से बढ़ाकर 50 हजार रुपये किया गया है: पीयूष गोयल
-मोदी सरकार ने टैक्स घटाया, 5 लाख तक इनकम टैक्स फ्री
-रक्षा बजट को बढ़ाकर 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक किया गया
-घर खरीदने वालों पर जीएसटी का बोझ कम करने की कोशिश, मंत्रीसमूह कर रहा है विचार: पीयूष गोयल
-प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 15.56 करोड़ लाभार्थियों को 7.23 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया गया: पीयूष गोयल
-24 घंटे में आईटी रिटर्न की प्रोसेसिंग, टैक्स मूल्यांकन के लिए दफ्तर नहीं जाना पड़ेगा: पीयूष गोयल
-मैं ईमानदार करदाताओं को धन्यवाद देता हूं: पीयूष गोयल
-टैक्सपेयर्स के लिए हमने टैक्स फाइलिंग को आसान बनाया, टैक्स कलेक्शन बढ़कर 12 लाख करोड़ हुआ: पीयूष गोयल
-प्रधानमंत्री श्रमयोगी मान धन योजना के लिए 500 करोड़ रुपये आवंटित। संगठित क्षेत्र के 15,000 रुपये प्रतिमाह कमाने वालों को 60 साल के बाद 3000 रुपये प्रति माह की पेंशन योजना दी जाएगी: पीयूष गोयल
-गायों के आनुवांशिकी को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय कामधेनू आयोग बनाया जाएगा: पीयूष गोयल
-जवानों को वन रैंक-वन पेंशन दिया: पीयूष गोयल
-ग्रैच्युअटी की सीमा 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख रुपये की गई: पीयूष गोयल
-श्रमिकों का बोनस बढ़ाकर 7 हजार रुपये, 21 हजार रुपये तक के वेतन वालों को मिलेगा बोनस: पीयूष गोयल
-10 लाख लोगों का इलाज आयुष्मान भारत के तहत हुआ, लोगों को करीब 3000 करोड़ रुपये का लाभ मिला: पीयूष गोयल
-2019-19 के संशोधित अनुमान में राजकोषीय घाटे को 3.4% तक लाया गया है: पीयूष गोयल
-करीब 12 करोड़ किसान परिवारों को फायदा होगा, योजना पर सालाना 75 हजार करोड़ रुपये का खर्च, केंद्र सरकार देगी पूरा पैसा: पीयूष गोयल
-1 दिसंबर 2018 से लागू होगी योजना, जल्द ही पहली किश्त जारी होगी: पीयूष गोयल
-पीएम किसान ​सम्मान योजना के तहत छोटे किसानों के (2 हेक्टयर तक मालिकाना हक रखने वाले) खाते में हर साल 6 हजार रुपये देने का फैसला किया गया है: पीयूष गोयल
-किसानों के लिए नई पीएम किसान सम्मान योजना, किसानों के खाते में 6 हजार रुपए जाएंगे: पीयूष गोयल
-रेरा से रियल एस्टेट सेक्टर में पारदर्शिता आई, सरकार ने कई नई योजनाएं शुरू कीं: पीयूष गोयल
-स्वच्छ भारत जनभागीदारी से राष्ट्रीय अभियान बना: पीयूष गोयल
-सरकार ने NPA कम करने की कोशिश की, अब बड़े कारोबारियों को ऋण चुकाने की चिंता होती है: पीयूष गोयल
-हमारी सरकार की उपलब्धि रही है कि हमने सोच को बदलने के अथक प्रयास किए और देश के आत्म-विश्वास को बढ़ाया: पीयूष गोयल
-किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी हो जाएगी, हम न्यू इंडिया की तरफ बढ़ रहे हैं: पीयूष गोयल
-हमारी अर्थव्यवस्था सबसे तेज गति से बढ़ रही है, दुनिया में छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है: पीयूष गोयल
-मैं गर्व के साथ कह सकता हूं भारत की अर्थव्यवस्था मजबूती के रास्ते पर है, किसानों की आमदनी दोगुनी हुई: पीयूष गोयल
-हमने देश का आत्मविश्वास बढ़ाया और देश को विकास के ट्रैक पर लाए: पीयूष गोयल
-कमरतोड़ महंगाई की कमर मोदी सरकार ने तोड़ दी: पीयूष गोयल
-पीयूष गोयल ने अमेरिका में इलाज करा रहे केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के स्वस्थ होने की कामना की
-वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बजट भाषण पढ़ना शुरू किया
-कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने पेश किया मोदी सरकार का अंतरिम बजट
-लोकसभा की कार्यवाही शुरु
-कैबिनेट ने अंतरिम बजट को मंजूरी दी 
-इस वक्त संसद में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक चल रही है जहां से अनुमोदन के बाद बजट 2019-20 को सदन में पेश किया जाएगा
-जिस तरह से सरकार ने रेलवे में निवेश बढ़ाया है, सीसीटीवी कैमरे लगाने से लेकर वाई-फाई तक, रेलवे में आगे भी निवेश निश्चित रूप से बढ़ेगाः मनोज सिन्हा
-बजट 2019-20 पेश करने से पहले कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की


-बजट की कापियां संसद भवन में पहुंच चुकी हैं और कुछ ही देर में इन कॉपियों को अंदर ले जाया जाएगा
-अगर मोदी सरकार बजट में लुकलुभावन ऐलान करती है तो वो संविधान के खिलाफ होगा: हरीश रावत
-आज पेश होने वाला बजट मिडिल क्लास से लेकर समाज के हर तबके की उम्मीदों पर खरा उतरेगा: शहनवाज हुसैन
-अंतरिम बजट से पहले सेंसेक्स 90 अंकों की बढ़त के साथ खुला है तो निफ्टी में 30 अंकों की बढ़त दर्ज की गई है
-वित्त मंत्री पीयूष गोयल राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना हुए
-बजट पेश होने से पहले आज संसद में केंद्रीय कैबिनेट की एक बैठक होगी
-केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल वित्त मंत्रालय पहुंचे 
-इनकम टैक्स में छूट की सीमा बढ़ सकती है, 2.5 से 3 लाख हो सकती है छूट की सीमा
-होम लोन में राहत मिल सकती है 
-यूनिवर्सल बेसिक इनकम यानी यूबीआई की घोषणा हो सकती है, हर महीने 700 से 1200 रुपये दिए जा सकते हैं 
-सभी महिला उपभोक्ताओं को मुफ्त गैस कनेक्शन मिल सकता है
-किसानों को राहत पहुंचाने के लिये राहत पैकेज हो सकता है
-किसानों को बुआई के पहले डायरेक्ट ट्रांसफर की स्कीम

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि विश्व के सबसे बड़े स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम ‘आयुष्मान भारत योजना’ के तहत अब तक 10 लाख मरीजों का उपचार किया जा चुका है। 
गोयल ने लोकसभा में 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि सरकार जन औषधि स्टोर के जरिए सस्ती दरों पर दवाइयां मुहैया करा रही है।

उन्होंने गरीबों को किफायती स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने के लिए नरेंद्र मोदी नीत सरकार द्वारा उठाए गए कदमों को रेखांकित करते हुए कहा कि देश में 21 अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) स्थापित किए गए हैं या काम कर रहे है, जिनमें से ‘‘14 संस्थानों को 2014 के बाद मंजूरी दी गई है’’। गोयल ने बताया कि एक अन्य संस्थान हरियाणा में खोला जाएगा।

Write a comment
bigg-boss-13