1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. यात्री वाहनों की बिक्री लगातार आठवें महीने जून में 18% घटी, उद्योग ने मांगी सरकार से मदद

यात्री वाहनों की बिक्री लगातार आठवें महीने जून में 18% घटी, उद्योग ने मांगी सरकार से मदद

सियाम के अध्यक्ष राजन वढेरा ने कहा कि हमने उद्योग में इतने लंबे समय तक मंदी नहीं देखी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 11, 2019 11:15 IST
Passenger vehicle sales fall 18 pc in June- India TV Paisa
Photo:PASSENGER VEHICLE SALES

Passenger vehicle sales fall 18 pc in June

नई दिल्ली। देश में यात्री वाहनों की बिक्री में जून में भी गिरावट का सिलसिला जारी रहा। यह लगातार आठवां महीना है जब यात्री वाहनों की बिक्री में कमी दर्ज की गई। ये आंकड़े आने के बाद वाहन उद्योग ने सरकार से इस गिरावट को रोकने तथा नौकरियों को सुरक्षित रखने के लिए ठोस नीतिगत उपाय करने का आग्रह किया है। 

सियाम के मुताबिक जून में यात्री वाहन बिक्री 17.54 प्रतिशत घटकर 2,25,732 इकाई रही। पिछले साल जून में यह आंकड़ा 2,73,748 वाहन था। घरेलू वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम ने बुधवार को जून के वाहन बिक्री आंकड़े जारी किए। इसके अनुसार समीक्षावधि में कारों की घरेलू बिक्री भी 24.97 प्रतिशत घटी है। जून में यह आंकड़ा 1,39,628 वाहन रहा, जो जून, 2018 में 1,83,885 कारों का था। 

इस दौरान मोटरसाइकिलों की बिक्री भी 9.57 प्रतिशत घटकर 10,84,598 इकाई रही, जो पिछले साल इसी अवधि में 11,99,332 इकाई थी। कुल दोपहिया वाहन बिक्री जून में 11.69 प्रतिशत गिरकर 16,49,477 वाहन रही, जो पिछले साल इस अवधि में 18,67,884 वाहन थी। वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री समीक्षावधि में 12.27 प्रतिशत घटकर 70,771 वाहन रही, जो पिछले साल जून में 80,670 वाहन थी। 

सियाम की रिपोर्ट के अनुसार सभी श्रेणियों में वाहनों की बिक्री जून में 12.34 प्रतिशत घटकर 19,97,952 वाहन रही, जो पिछले साल इसी माह में 22,79,186 वाहन थी। जून में सभी श्रेणियों के वाहनों की बिक्री घटी है। अप्रैल से जून की अवधि में यात्री वाहनों की बिक्री 18.42 प्रतिशत घटकर 7,12,620 वाहन रही, जो पिछले साल की समान अवधि में 8,73,490 वाहन थी। 

वहीं अप्रैल-जून में सभी श्रेणियों की बिक्री 12.35 प्रतिशत गिरकर 60,85,406 वाहन रही, जो पिछले साल इस अवधि में 69,42,742 वाहन थी। सियाम के अध्यक्ष राजन वढेरा ने कहा कि हमने उद्योग में इतने लंबे समय तक मंदी नहीं देखी है। यात्री वाहनों की बिक्री में एक साल लगातार गिरावट दर्ज की गई है। अतीत में भी नकारात्मक वृद्धि देखी गई है लेकिन वह ज्यादा-से-ज्यादा एक या दो तिमाही में देखने को मिलती थी।  

उन्होंने कहा कि पहली बार यात्री वाहन, वाणिज्यिक वाहन, दोपहिया और तिपहिया सभी तरह की श्रेणियों के वाहनों की बिक्री में गिरावट दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद कर रहे थे कि बजट में वाहनों पर माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की दर को 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत किया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कर में कमी से उद्योग को वापस वृद्धि के पथ पर ले जाने में सबसे ज्यादा मदद मिलती।  

Write a comment