1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. मारुति सुजुकी का बिक्री नेटवर्क 2,000 के पार, 1,643 शहरों में पहुंच बनाई

मारुति सुजुकी का बिक्री नेटवर्क 2,000 के पार, 1,643 शहरों में पहुंच बनाई

कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) का बिक्री नेटवर्क 2,000 के आंकड़े को पार कर गया है। इस तरह कंपनी के नेटवर्क की पहुंच 1,643 शहरों तक पहुंच गई है।

Dharmender Chaudhary Dharmender Chaudhary
Published on: March 19, 2017 17:24 IST
मारुति सुजुकी का बिक्री नेटवर्क 2,000 के पार, 1,643 शहरों में पहुंच बनाई- India TV Paisa
मारुति सुजुकी का बिक्री नेटवर्क 2,000 के पार, 1,643 शहरों में पहुंच बनाई

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) का बिक्री नेटवर्क 2,000 के आंकड़े को पार कर गया है। इस तरह कंपनी के नेटवर्क की पहुंच 1,643 शहरों तक पहुंच गई है। कंपनी का 2020 तक 20 लाख इकाई सालाना का बिक्री लक्ष्य है। पिछले पांच साल के दौरान कंपनी ने अपने नेटवर्क का विस्तार तेजी से किया है।

  • 2011-12 में कंपनी की डीलरशिप की संख्या 1,100 थी, जो 2016-17 में 2,007 हो गई है।
  • पिछले पांच साल के दौरान कंपनी ने प्रत्येक वित्त वर्ष में औसतन 200 आउटलेट्स खोले।
  • 2011-12 में कंपनी की उपस्थिति 800 शहरों में थी, जो 2016-17 में 1,643 हो गई।

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, हाल के वर्षों में कंपनी ने नए सेगमेंट में नए मॉडल उतारे हैं। कंपनी ने निरंतर अपने बिक्री आउटलेट्स का विस्तार किया है। नेक्सा के जरिए नए ग्राहकों तक पहुंचने का नया चैनल पेश किया है। इसके अलावा कंपनी की प्रीमियम खुदरा श्रृंखला नेक्सा के आउटलेट्स की संख्या इस वित्त वर्ष के अंत तक बढ़कर 250 हो जाएगी, जो पिछले साल 127 थी।

मारुति, टाटा मोटर्स, रेनो की बाजार हिस्सेदारी बढ़ी

  • मारुति सुजुकी इंडिया, टाटा मोटर्स और रेनो ही ऐसी हैं जिनकी बाजार हिस्सेदारी चालू वित्त वर्ष के पहले 11 महीने में बढ़ी हैं।
  • हुंडई मोटर इंडिया, महिंद्रा एंड महिंद्रा, होंडा कार्स इंडिया और टोयोटा किर्लोस्कर मोटर सभी की बाजार हिस्सेदारी में उक्त अवधि के दौरान गिरावट आई।
  • यात्री वाहनों की बिक्री अप्रैल-फरवरी के दौरान 9.16 प्रतिशत बढ़कर 27,64,206 इकाई रही।
  • इससे पूर्व वर्ष की इसी अवधि में यह 25,32,288 इकाई थी।
  • प्रमुख कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की हिस्सेदारी चालू वित्त वर्ष के पहले 11 महीने में बढ़कर 47.6 प्रतिशत हो गई।
Write a comment