1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. मारु‍ति सुजुकी ने एलसीवी श्रेणी में पकड़ी रफ्तार, एक साल में बेचे 10033 सुपर कैरी मिनी ट्रक

मारु‍ति सुजुकी ने एलसीवी श्रेणी में पकड़ी रफ्तार, एक साल में बेचे 10033 सुपर कैरी मिनी ट्रक

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने यात्री कार से इतर अब हल्के वाणिज्यिक वाहन (एलसीवी) श्रेणी में भी रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया है। कंपनी के ‘सुपर कैरी मिनी ट्रक’ की बिक्री में वित्‍त वर्ष 2017-18 के दौरान 10 गुना वृद्धि दर्ज की गई है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: April 08, 2018 12:15 IST
maruti suzuki super carry- India TV Paisa

maruti suzuki super carry

 

नई दिल्‍ली। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने यात्री कार से इतर अब हल्के वाणिज्यिक वाहन (एलसीवी) श्रेणी में भी रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया है। कंपनी के ‘सुपर कैरी मिनी ट्रक’ की बिक्री में वित्‍त वर्ष 2017-18 के दौरान 10 गुना वृद्धि दर्ज की गई है। कंपनी ने वित्‍त वर्ष 2016-17 में 900 सुपर कैरी की बिक्री की थी, जो वित्त वर्ष 2017-18 में बढ़कर 10,033 इकाई पर पहुंच गई। इस एलसीवी को सितंबर 2016 में बाजार में उतारा गया था। 

मारुति सुजुकी 700 किलोग्राम तक वजन ढोने में सक्षम मिनी ट्रक श्रेणी में धीरे-धीरे अपनी उपस्थिति बढ़ा रही है। इस श्रेणी में कंपनी के सुपर कैरी की प्रतिस्पर्धा टाटा एस, महिंद्रा सुप्रो और पिआजियो पोर्टर से है। कंपनी के एक प्रवक्ता ने बताया कि उसने एलसीवी की बिक्री 2016 में चुनिंदा शहरों में शुरू की थी। मार्च 2018 तक यह नेटवर्क बढ़कर देश भर में 190 बिक्री केंद्रों तक पहुंच गया। 

प्रवक्ता ने बिक्री बढ़ने में उपभोक्ताओं से मिली सकारात्मक प्रतिक्रिया का भी योगदान होने का जिक्र करते हुए कहा कि 159 शहरों के इस देशव्यापी बिक्री नेटवर्क और बेहतर प्रतिक्रिया के दम पर हम पिछले छह महीनों में प्रति माह एक हजार इकाइयों से अधिक की बिक्री कर पाने में सक्षम हुए हैं। इस साल की शुरुआत में सुपर कैरी 25 राज्यों के 140 शहरों में कंपनी के 162 बिक्री केंद्रों पर उपलब्ध था। बाजार में 2016 में पेश किए जाने के बाद इसकी बिक्री तीन शहरों अहमदाबाद, कोलकाता और लुधियाना में शुरू की गई थी। 

कंपनी ने इस साल की शुरुआत में कहा था कि उसकी योजना भविष्य में एलसीवी श्रेणी में महत्वपूर्ण भागीदार बनने तथा सभी संभावित जगहों के साथ देश भर में उपस्थिति दर्ज करने की है। हालांकि, कंपनी को अभी लंबा सफर तय करना होगा। प्रतिस्पर्धी टाटा मोटर्स ने महज मार्च महीने में ही एस मिनी ट्रक की 14,286 इकाइयां बेची हैं। इसकी तुलना में मारुति सुजुकी मार्च में सुपर कैरी की 1,412 इकाइयां ही बेच सकी। कंपनी मिनी ट्रक की देश में बिक्री करने के अलावा दक्षिण अफ्रीका एवं तंजानिया जैसे चुनिंदा अफ्रीकी देशों को इसका निर्यात भी करती है। 

Write a comment