1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. Maruti Suzuki ने 4 साल में बेची 6.5 लाख Baleno, अगले साल बाजार में आएगा Brezza व S-Cross का पेट्रोल संस्‍करण

Maruti Suzuki ने 4 साल में बेची 6.5 लाख Baleno, अगले साल बाजार में आएगा Brezza व S-Cross का पेट्रोल संस्‍करण

नए उत्सर्जन मानक एक अप्रैल, 2020 से लागू हो रहे हैं तो ऐसे में कंपनी वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में बीएस 6 पेट्रोल ब्रेजा व एस क्रॉस लेकर आएगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: November 21, 2019 18:13 IST
Maruti Baleno sales cross 6.5 lakh units in just over 4 years of launch- India TV Paisa
Photo:MARUTI BALENO

Maruti Baleno sales cross 6.5 lakh units in just over 4 years of launch

नई दि‍ल्‍ली। मारुति सुजुकी की प्रीमियम हैचबैक बलेनो ने भारतीय बाजार में अपने चार साल पूरे कर लिए हैं। मारुति सुजुकी ने इन चार सालों में 6.5 लाख बलेनो की बिक्री की है। अक्‍टूबर 2015 में लॉन्‍च की गई बलेनो मेक इन इंडिया का सच्‍चा प्रतीक है। अपने सेगमेंट में प्रीमियम हैचबैक बलेनो बेजोड़ नेतृत्‍वकारी स्थिति में है।  

देश की प्रमुख कार कंपनी मारुति सुजुकी देश में ईंधन उत्सर्जन के नए नियम लागू होने से पहले अपनी दो प्रमुख कारों ब्रेजा व एस क्रॉस का पेट्रोल संस्करण पेश करेगी। ये नए संस्करण बीएस-6 ईंधन मानक वाले होंगे। इसके साथ ही कंपनी ने कहा है कि देश का वाहन उद्योग मंदी से निकल आया है, यह कहने के लिए अभी अगले दो तीन महीने इंतजार करना होगा।

मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक (विपणन) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि कंपनी ब्रेजा व एस क्रॉस का बीएस-6 मानक वाला पेट्रोल संस्करण लेकर आएगी। उन्होंने कहा कि हम यह जल्द ही लेकर आएंगे। क्योंकि नए उत्सर्जन मानक एक अप्रैल, 2020 से लागू हो रहे हैं तो हम इस वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी मार्च) में बीएस 6 पेट्रोल ब्रेजा व एस क्रॉस लेकर आएंगे। उल्लेखनीय है कि कंपनी फिलहाल ब्रेजा व एस क्रॉस का केवल डीजल संस्करण बेच रही है।

कंपनी द्वारा डीजल वाहनों का उत्पादन बंद किए जाने संबंधी एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कंपनी पहले की कह चुकी है कि वह डीजल की बीएस-6 मानक वाली छोटी गाड़ियां नहीं बनाएगी लेकिन अगर बाजार में रुझान रहता है तो इस पर पुनर्विचार करेगी। उन्होंने कहा कि बाजार की मांग को देखने के बाद मारुति बड़ी गाड़ियों के बीएस-6 मानक वाले डीजल संस्करण भी ला सकती है लेकिन यह बाजार पर निर्भर करेगा और इस बारे में अभी कुछ अंतिम फैसला नहीं किया गया है।

एक सवाल के जवाब में श्रीवास्तव ने कहा कि देश का वाहन क्षेत्र मंदी के दौर से पूरी तरह से निकल आया है यह कहना अभी जल्दबाजी होगा और आगामी दो तीन महीने इस लिहाज से महत्वपूर्ण होंगे। उन्होंने कहा कि अक्टूबर में बिक्री बहुत अच्छी रही इससे हमें थोड़ी राहत मिली। भंडार भी काफी कम हो गया। इस तरह से अक्टूबर अच्छा रहा। अब सवाल है कि क्या यह क्रम बना रहेगा। हम यह कहने में थोड़ा सतर्क हैं कि उद्योग में स्थिति सुधर गई है। इसकी वजह यह है कि हम देखना चाहते हैं कि आगे दो तीन महीने कैसे रहेंगे।

बिजली चालित वाहनों के सवाल पर उन्होंने कहा कि कंपनी फिलहाल 50 ईवी गाड़ियों को अलग अलग हालात में परख रही है परीक्षण कर रही है उसके आधार पर हम आगे फैसला करेंगे। उन्होंने बताया कि कंपनी ने सात महीने में तीन लाख से अधिक बीएस-6 वाहन बेचकर रिकॉर्ड बनाया है। केवल अक्टूबर माह में ही कंपनी ने ऐसे लगभग एक लाख वाहन बेचे। 

Write a comment
bigg-boss-13