1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. CSIR-CMERI बना रहा है बैटरी चालित इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर, एक लाख रुपये से कुछ अधिक होगी कीमत

CSIR-CMERI बना रहा है बैटरी चालित इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर, एक लाख रुपये से कुछ अधिक होगी कीमत

केंद्रीय यांत्रिक अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान (सीएसआईआर) छोटे खेतों के लिये कम शक्ति के इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर का विकास कर रहा है। घरेलू बाजार में सबसे सस्ता होगा और इसकी कीमत एक लाख रुपये से थोड़ा अधिक होगी।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: August 22, 2019 10:36 IST
CSIR-CMERI making e-tractor। representative image- India TV Paisa
Photo:YOU TUBE

CSIR-CMERI making e-tractor। representative image

गुवाहाटी। केंद्रीय यांत्रिक अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान (सीएसआईआर) छोटे खेतों के लिये कम शक्ति के इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर का विकास कर रहा है। घरेलू बाजार में सबसे सस्ता होगा और इसकी कीमत एक लाख रुपये से थोड़ा अधिक होगी। सरकारी शोध और विकास इकाई पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर कारखाने में एक साल के भीतर ट्रैक्टर का परीक्षण करने की योजना बना रही है। 

Related Stories
csir ugc net results 2019- India TV Paisa

CSIR UGC NET June Results 2019: सीएसआईआर यूजीसी नेट जून के नतीजे घोषित, ऐसे करें चेक

सीएसआईआर-सीएमईआरआई के निदेशक हरीश हीरानी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हम 10 एचपी (अश्व शक्ति) के बैटरी चालित छोटे ट्रैक्टर के विकास पर काम कर रहे हैं। हम कम वजन के उत्पाद बनाने पर काम कर रहे हैं जो उन किसानों के लिये उपयोग होगी जिनके पास जोत का आकार छोटा है।

हरीश हीरानी ने कहा कि शोधकर्ता अगले एक साल में इसके पहले सफल परीक्षण की योजना बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर लिथियम बैटरी से युक्त होगा, एक बार इसे पूरी तरह चार्ज करने पर ट्रैक्टर एक घंटा चलेगा। ट्रैक्टर की लागत के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसकी उत्पादन एक लाख रुपये प्रति इकाई होगी। हालांकि हीरानी ने कहा कि यह बिक्री मूल्य नहीं है।

सामान्य तौर पर जो कंपनी हमने प्रौद्योगिकी करती है, वह कुछ ऊंचे दाम पर इसे बेचती है। उन्होंने कहा कि संस्थान बैटरी परिचालित ट्रैक्टर विकसित करने के लिये करीब 30 लाख रुपये निवेश कर रहा है। ट्रैक्टर के लिये चार्जिंग स्टेशन के बारे में हीरानी ने कहा कि वे खेतों में सौर ऊर्जा चालित चार्जिंग स्टेशन बनाने पर काम कर रहे हैं। 

Write a comment