1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. सेक्स और रिश्ते
  5. Friendship day 2018: इस खास वजह से हर साल अगस्त का पहला Sunday मनाया जाता है फ्रेंडशिप डे

Friendship day 2018: इस खास वजह से हर साल अगस्त का पहला Sunday मनाया जाता है फ्रेंडशिप डे

दोस्त ही ऐसा होता है जिसके सामने आप खुली किताब की तरह होते हैं। दोस्त ही एक ऐसी चीज होती है जिसके सामने हर बात बोल सकते हैं जो बात आप अपने माता-पिता या पार्टनर से भी शेयर नहीं कर पाते। 

Written by: India TV Lifestyle Desk [Updated:05 Aug 2018, 12:45 PM IST]
Friendship day 2018- India TV
Friendship day 2018

नई दिल्ली: अच्छे दोस्त किस्मत वालों को ही मिलते हैं। आज के समय में ऐसा दोस्त मिलना काफी मुश्किल जो आपकी हर परिस्थिती में आपके साथ खड़ा हो।अक्सर एक बात जो हमेशा से कही जाती है वह यह कि किस्मत वाले को ही अच्छे दोस्त मिलते हैं। जी हां दोस्त से बढ़कर ही शायद इस दुनिया में कुछ अनमोल चीज होती हो। अगस्त के पहले हफ्ते के संडे के दिन फ्रेंडशिप डे पूरी दुनिया में मनाया जाता है। अगर दोस्ती को डिफाइन किया गया तो एक बात जो सबसे पहले दिमाग में आती है वह यह कि दोस्त ही ऐसा होता है जिसके सामने आप खुली किताब की तरह होते हैं। दोस्त ही एक ऐसी चीज होती है जिसके सामने हर बात बोल सकते हैं जो बात आप अपने माता-पिता या पार्टनर से भी शेयर नहीं कर पाते। दोस्त ही एक ऐसा होता है जो आपके हर दुख में आपके साथ खड़ा होता है। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि आखिर क्यों अगस्त का पहला संडे दोस्तों के नाम है। आज आपको बताएंगे कि कैसे इस खास दिन की शुरुआत कैसे हुई और लोग ने इस दिन को सेलिब्रेट करना कैसे शुरू किया?

आइए जानते हैं कैसे फ्रेंडशिप डे की शुरुआत हुई:

भारत में अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है।‘फ्रेंडशिप डे’ मनाने का रिवाज वैसे तो पश्चिमी देशों से शुरु हुआ, लेकिन भारत में भी पिछले कुछ सालों से युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है। लोग इस दिन एक दूसरे को  ग्रीटिंग कार्ड, सोशल मीडिया और एसएमएस के जरिए बधाईयां देते हैं।

इतिहास

फ्रेंडशिप डे की शुरुआत 1935 में अमेरिका से हुई थी। कहा जाता है कि अगस्त के पहले रविवार को अमेरिकी सरकार ने एक निर्दोष व्यक्ति को मार दिया था और जिसके दुख में उसके दोस्त ने आत्महत्या कर ली। जिसके बाद दक्षिणी अमेरिकी लोगों ने इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे (International Friendship Day) मनाने का प्रस्ताव अमेरिकी सरकार के समक्ष रखा गया था।(जा रहे हैं हनीमून पर तो होटल बुक करते वक्त इन बातों का रखें ख्याल)

इस हादसे के बाद लोगों के इस प्रस्ताव को सरकार ने पहले तो मानने से बिल्कुल मना कर दिया था लेकिन उनके गुस्से को शांत करने के लिए बाद में अमेरिकी सरकार ने लगभग 21 साल बाद 1958 में ये प्रस्ताव मंजूर कर लिया । जिसेक बाद अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाने का चलन शुरू हो गया।(अगर आप भी सोच रहे हैं लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के लिए, तो पहलें जान लें ये जरुरी बातें)

फ्रेंडशिप डे की जरूरत क्यों पड़ी
हर दोस्त जरूरी होता है ये तो आपने सुना ही होगा। हर व्यक्ति के लिए एक दोस्त बहुत जरूरी होता है। क्योंकि दोस्त ही ऐसे होते हैं जिससे आप हर चीज शेयर कर सकते हैं। और बड़े-बुजुर्ग अक्सर एक बात कहते हैं कि अगर आपको अपनी जिंदगी में अच्छे दोस्त मिल गए तो आप दुनिया के सबसे किस्मत वाले व्यक्ति हो। हर व्यक्ति की जिंदगी में एक अच्छे दोस्त की जरूरत होती है। इसलिए वैलेंटाइन डे, मदर्स डे, फादर्स डे के साथ-साथ फ्रेंडशिप डे भी मनाया जाता है।(Monsoon Tips: इस मौसम सोच रहें है डेट पर जाने के लिए तो इन टिप्स को कर सकते हैं फॉलो)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Sex and relationship News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Friendship Day 2018: Happy Friendship Day History in Hindi, Celebration Date in India: Friendship day 2018: इस वजह से हर साल अगस्त का पहला Sunday मनाया जाता है फ्रेंडशिप डे
Write a comment