1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. प्रदोष व्रत और मास शिवरात्रि व्रत एक ही दिन, राशिनुसार ऐसे करें भगवान शिव की पूजा तो होगी हर इच्छा पूरी

प्रदोष व्रत और मास शिवरात्रि व्रत एक ही दिन, राशिनुसार ऐसे करें भगवान शिव की पूजा तो होगी हर इच्छा पूरी

सावन माह की शिवरात्रि और प्रदोष व्रत एक ही पड़ रहे है। जिसके कारण 9 अगस्त का दिन बहुत ही शुभ है। शिव जी के निमित्त कुछ विशेष उपाय करने से विभिन्न राशि वालों को क्या फल प्राप्त होंगे, कैसे आपकी अधूरी ख्वाईशें पूरी होगी। जानिए आचार्य उंदु प्रकाश से राशिनुसार क्या करें उपाय।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: August 08, 2018 17:38 IST
Lord shiva- India TV
Lord shiva

धर्म डेस्क: आज श्रावण कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि और गुरुवार का दिन है।  आज त्रयोदशी तिथि रात 10:45 पर समाप्त होगी और उसके तुरंत बाद चतुर्दशी तिथि लगेगी। जब कृष्ण पक्ष में चतुर्दशी तिथि रात के समय होती है, तो उस दिन मास शिवरात्रि व्रत किया जाता है। अतः आज रात के समय चतुर्दशी होने के कारण मास शिवरात्रि व्रत भी आज ही है। प्रदोष व्रत, हो, चाहें मास शिवरात्रि व्रत, दोनों का मकसद एक ही है- भगवान शिव की पूजा। इन दोनों में ही भगवान शिव की पूजा की जाती है और उनके निमित्त व्रत किया जाता है। तो आज प्रदोष व्रत और मास शिवरात्रि व्रत के दिन, वो भी सावन के महीने में।

शिव जी के निमित्त कुछ विशेष उपाय करने से विभिन्न राशि वालों को क्या फल प्राप्त होंगे, कैसे आपकी अधूरी ख्वाईशें पूरी होगी। जानिए आचार्य उंदु प्रकाश से राशिनुसार क्या करें उपाय।

मेष राशि

अगर आप अपनी अधूरी ख्वाइशों को पूरा करना चाहते हैं, तो आज के दिन सुबह स्नान आदि से निवृत्त होकर किसी शिव मंदिर में जाएं और वहां जाकर शुद्ध जल में पुष्प डालकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। साथ ही भगवान से अपनी अधूरी ख्वाइशों को पूरा करने के लिए प्रार्थना करें। आज के दिन भगवान की इस प्रकार पूजा करने से आपकी अधूरी ख्वाइशें जल्द ही पूरी होगी। (Sawan Shivratri 2018: शिवरात्रि पर कांवड जल चढ़ाने का शुभ मुहूर्त साथ ही जानें पूजा विधि )

वृष राशि
अगर आप अपने घर पारिवार को दूसरों की बुरी नजर से बचाएं रखना चाहते हैं, तो आज के दिन सुबह स्नान आदि के बाद शिव जी को प्रणाम करें और उनके सामने आसन बिछाकर बैठ जाएं। फिर शिव जी के मंत्र का जाप करें। मंत्र है – ऊं नम: शिवाय
आज के दिन इस मंत्र का 11 बार जाप करें। साथ ही जाप पूरा होने के बाद भगवान को पुष्प अर्पित करें। आज के दिन ऐसा करने से आप अपने घर परिवार को दूसरों की बुरी नजर से बचा सकते हैं। (कालसर्प दोष को दूर करने के लिए सावन माह की शिवरात्रि के दिन करें यह उपाय, मिलेगा दोगुना फल )

अगली स्लाइड में पढ़ें और राशियों के बारें में

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment