1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. Sawan 2019: सावन के इस पवित्र माह में राशिनुसार इन मंत्रों के साथ करें भगवान शिव की आराधना, होगी हर मुराद पूरी

Sawan 2019: सावन के इस पवित्र माह में राशिनुसार इन मंत्रों के साथ करें भगवान शिव की आराधना, होगी हर मुराद पूरी

सावन महीने में आज बन रहे नक्षत्र और योग के मुताबिक राशिवार उपायों की। आज हम आपको शिवजी के वो महामंत्र बताएंगे जिनका जाप कर इस श्रावण मास में आप शिवजी की विशेष कृपा हासिल कर सकते हैं। जानें आचार्य इंदु प्रकाश से।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: July 22, 2019 10:41 IST
Sawan 2019- India TV
Sawan 2019

सावन 2019: आज श्रावण कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि और बुधवार का दिन है। बुधवार से भगवान शिव को सबसे ज्यादा प्रिय सावन के महीने का आगाज़ हो गया है। और ये 15 अगस्त यानि गुरूवार को संपूर्ण होगा। हिंदू पंचांग के अनुसार ये साल का पांचवां महीना है ये महीना भगवान शिव को सबसे ज्यादा पसंद है इसलिए इस माह शिव की आराधना से विशेष फल प्राप्त होता है। सावन के महीने में ही सबसे ज्यादा बारिश होती है लिहाज़ा इस पूरे महीने जल की प्रधानता बनी रहती है। सावन में शिवलिंग पर जलाभिषेक करने का उत्तम फल मिलता है। माना जाता है कि अब अगले चार महीने तक सृष्टि का कार्यभार भगवान शिव शंकर ही संभालेंगे।

सावन के महीने में सोमवार सबसे खास दिन होता है। श्रावण मास में सोमवार के व्रत का विधान है। अगर कुंवारी कन्याएं सोमवार का व्रत करती हैं तो उन्हे एक श्रेष्ठ जीवनसाथी मिलता है तो साथ ही अन्य लोगों को भी इस व्रत के विशेष फल प्राप्त होते हैं सावन महीने के सोमवार के व्रत करने से सभी शारीरिक, मानसिक और आर्थिक कष्ट दूर हो जाते हैं।

सावन महीने में आज बन रहे नक्षत्र और योग के मुताबिक राशिवार उपायों की। आज हम आपको शिवजी के वो महामंत्र बताएंगे जिनका जाप कर इस श्रावण मास में आप शिवजी की विशेष कृपा हासिल कर सकते हैं। जानें आचार्य इंदु प्रकाश से।

ये भी पढ़ें- 17 जुलाई राशिफल: सावन के साथ लग रहा है शुभ योग, इन राशियों के सितारे होगे बुलंदी में

मेष राशि

आपका आने वाला समय थोड़ा उतार चढ़ाव वाला हो सकता है लिहाज़ा आज अपनी माता, दादी या फिर किसी बुजुर्ग महिला का आशीर्वाद लें। आपका आने वाला समय बेहतर होगा। इसके साथ ही सावन महीने में शिव के अघोर मंत्र का जाप करें। ये मंत्र है-
ऊं अघोरेभ्यो अथ घोरेभ्यो, घोर घोर तरेभ्यः
सर्वेभ्यो सर्व शर्वेभ्यो, नमस्ते अस्तु रूद्ररूपेभ्य।
सावन के महीने में रोज़ाना 11 बार इस मंत्र का जाप करना चाहिए। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार मेष राशि वालों के लिये ही ये मंत्रोच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

ये भी पढ़े-

वृष राशि
वृष राशि वालों सावन महीने में आपको शिव के इस मंत्र का जाप करना है- ऊं शं शंकराय भवोद्भवाय शं ऊं नमः।।
इस मंत्र के जाप से शिव शंकर आपका कल्याण ज़रूर करेंगे। बस ध्यान रखें कि इस मंत्र का प्रतिदिन 108 बार जाप करना है। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार वृष राशि वालों के लिये ही इस मंत्र का जाप विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

मिथुन राशि
अगर आप इस सावन के महीने में भोलेनाथ की कृपा हासिल करना चाहते हैं तो बेहद ही आसान इस मंत्र का जाप करे। ये मंत्र है – ऊं नमः शिवाय इस मंत्र को रोज़ाना 108 बार जपें। भगवान शिव आपका कल्याण करेंगे। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार मिथुन राशि वालों के लिये ही ये उपाय विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

कर्क राशि
की अब बात करेंगे। कर्क राशि वालो शिव को समर्पित सावन का ये महीना बेहद शुभ फल देने वाला होता है। इस पूरे महीने आप ऊं शं शिवाय शं ऊं नमः इस मंत्र का जाप करें। याद रखें कि पूरे सावन महीने के दौरान आपको कुल 5100 बार इस मंत्र का जाप करना है। इससे आपको उत्तम फल की प्राप्ति होगी। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार कर्क राशि वालों के लिये ही ये मंत्रोच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

सिंह राशि
अगर सावन के इस पवित्र महीने में आप शंभूनाथ की कृपा पाना चाहते हैं तो आप इस स्तुति का जाप करें।
नमामीशमीशान निर्वाण रूपं।
विभुं व्यापकं ब्रह्म वेद स्वरूपं।।
श्रावण मास में आपको रोज़ाना 21 बार इस स्तुति का जाप करना है। सभी कार्य पूरे होंगे। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार सिंह राशि वालों के लिये ही ये मंत्र विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

कन्या राशि
कन्या राशि वालों इस सावन के महीने आपको भगवान शिव के त्र्यम्बकं मंत्र का जाप करना चाहिए। ये मंत्र इस प्रकार है-
ऊं त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्
उर्वारूकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्
रोज़ाना 31 बार इस मंत्र का जाप ज़रूर करें। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार कन्या राशि वालों के लिये ही इस मंत्र का उच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

तुला राशि
इस राशि के जातक सावन के महीने में जिस मंत्र का जाप करना है वो इस प्रकार है-
ऊं शं भवोद्भवाय शं ऊं नमः
नित्य रूप से 51 बार इस मंत्र का जाप करें। भोलेनाथ आपकी हर मनोकामना पूरी करेंगे। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार तुला राशि वालों के लिये ही ये मंत्रोच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

वृश्चिक राशि
सावन मास में आप इस मंत्र का जाप करें
निजं निर्गुणं निर्विकल्पं निरीहं।
चिदाकाशमाकाश वासं भजेहं।।
आप अगर रोज़ाना 11 बार इस मंत्र का जाप करेंगे तो निश्चित रूप से ये शुभ फलदायी साबित होगा। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार वृश्चिक राशि वालों के लिये ही इस मंत्र का जाप करना विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

धनु राशि
इस सावन अगर भोलेनाथ की कृपा पाना चाहते हैं तो शिव शंकर के इस मंत्र का जाप करें।  
ऊं ऐं ह्रीं क्लीं आं शं शंकराय मम सकल जन्मांतरार्जित पाप विध्वंसनाय
श्रीमते आयुः प्रदाय, धनदाय, पुत्रदारादि सौख्य प्रदाय महेश्वराय ते नमः कष्टं घोर भयं वारय वारय.. 

पूर्णायुः वितर वितर मध्ये मा खण्डितं कुरु कुरु सर्वान् कामान् पूरय पूरय शं आं
क्लीं ह्रीं ऐं ऊं सम संख्याम सावित्रीम् जपेत् ऊं तत्पुरुषाय च विद्महे महादेवाय च धीमहे

पूर्णायुः वितर वितर मध्ये मा खण्डितं कुरु कुरु सर्वान् कामान् पूरय पूरय शं आं
आं क्लीं ह्रीं ऐं ऊं  

शिव के सामने आसन बिछाकर शिव का ध्यान लगाएं और इस मंत्र को जपें। आपको फायदा पहुंचेगा। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार धनु राशि वालों के लिये ही ये मंत्रोच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

मकर राशि
मकर राशि वालों को इस महामंत्र का जाप करना है। ये मंत्र है-
ऊं शं विश्वरूपाय अनादि अनामय शं ऊं...ये मंत्र प्रतिदिन आपको 111 बार जपना है। निश्चित ही ये शुभ फल आपको देगा। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार मकर राशि वालों के लिये ही इस मंत्र का उच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

कुंभ राशि
श्रावण मास के दौरान आपके लिए शिव का ये मंत्र लाभकारी होगा। ये मंत्र है-
ऊं क्लीं क्लीं क्लीं वृषभारूढ़ाय वामांगे गौरी कृताय क्लीं क्लीं क्लीं ऊं नमः शिवाय।।
पूरे सावन महीने 21 बार नित्य रूप से इस मंत्र का जाप करें। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार कुंभ राशि वालों के लिये ही इस मंत्र का उच्चारण विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

मीन राशि
इस राशि के जातकों को इस मंत्र का जाप करना है- ऊं शं शं शिवाय शं शं कुरु कुरु ऊं।। इस मंत्र का अगर श्रावण मास के दौरान 11 हज़ार बार जाप किया जाए तो ये शुभ फल ज़रूर देगा। वैसे तो आज की ग्रह-नक्षत्र स्थिति के अनुसार मीन राशि वालों के लिये ही ये मंत्र विशेष फलदायी है, लेकिन बाकी राशि वाले लोग भी इसका फायदा उठा सकते हैं ।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
arun-jaitley