1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. रोजाना देर रात जाग जाता है बच्चा तो हो सकती है यह हेल्थ प्रॉब्लम

रोजाना देर रात जाग जाता है बच्चा तो हो सकती है यह हेल्थ प्रॉब्लम

क्या आपके बच्चे भी आधी रात के वक्त उठकर रोने लगते हैं। आपने अगर ध्यान दिया हो तो आपके बता दें कि ज्यादातर छोटे बच्चे रात के वक्त उठकर रोने लगते हैं। खासकर रात के 2 बजे के आसपास, अगर ये कुछ दिनों तक हो तो सही लगता है लेकिन अगर यह हर रात की आदत बन जाए तो आपको सोचने की जरूरत है? 

Swati Singh Swati Singh
Published on: July 30, 2018 17:12 IST
बच्चों की प्रॉब्लम- India TV
बच्चों की प्रॉब्लम

हेल्थ डेस्क: क्या आपके बच्चे भी आधी रात के वक्त उठकर रोने लगते हैं। आपने अगर ध्यान दिया हो तो आपके बता दें कि ज्यादातर छोटे बच्चे रात के वक्त उठकर रोने लगते हैं। खासकर रात के 2 बजे के आसपास, अगर ये कुछ दिनों तक हो तो सही लगता है लेकिन अगर यह हर रात की आदत बन जाए तो आपको सोचने की जरूरत है? सिर्फ इतना ही नहीं अगर ऐसा अक्सर हो रहा है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

बच्चे की नींद पूरी नहीं हो रही

अगर आपका बच्चा रोजाना रात के 2 बजे उठकर रोने लगता है तो आपको कुछ खास बातों की ख्याल रखने की जरूरत है। ये भी कारण हो सकता है कि आपके बच्चे को भूख लगी है इसलिए रो रहा है तो ऐसे में सबसे पहले उठकर उसे दूध पिलाएं। आजकल दूध पिलाने के कई तरीके आ गए हैं जैसे बोतल से दूध पीलाना हो या अगर आप अपने बच्चे को खुद का दूध पिलाते हैं तो उसे अच्छे से दूध पिलाएं।

बच्चे को ज्यादा टाइम तक भूखा न रखें
कई बार ऐसा होता है कि आपका बच्चा नहीं रो रहा है तो आप उसे काफी देर तक दूध नहीं पिलाती हैं। ऐसे में अक्सर यह होता है कि वह लंबे अंतराल के बाद बच्चा को ज्यादा भूख लग जाता है और वह बहुत तेज रोने लगता है। तो ऐसे वक्त में आपको एक बात की ख्याल रखनी चाहिए वह यह है कि आपको अपने बच्चे को बीच-बीच में चेक करते रहना चाहिए कि वह भूखा है या नहीं।

अधूरी नींद
कई बार ऐसा होता है कि बच्चा अपने गीले डायपर की वजह से उठकर रोने लगता है। आप अपनी नींद पूरी करने के चक्कर में आप डायपर बदलना भूल जाती हैं और इससे बच्चे को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में एक बात का खास ख्याल रखें, बच्चे को एक बार पहना दिया जाए तो 4 या 5 बार पेशाब करने के बाद ही डायपर बदला जाता है । यदि उसने मल त्याग किया हो तो इसे तुरंत बदलना जरूरी होता है क्योंकि बच्चे की कोमल त्वचा को इससे नुक्सान हो सकता है । गीले डायपर से बच्चे के स्किन पर रैसेस हो जाते हैं जिसकी वजह से प्रॉब्लम शूरू हो जाती है।(सावन में भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, सेहत पर पड़ेगा बुरा असर)

मेडिकल फैक्टर
अगर बिना किसी वजह से रोजाना देर रात बच्चा उठकर रोने लगता है तो आप जितनी जल्दी हो डॉक्टर से मिलें। साथ ही एक बात का खास ख्याल रखें आपके बच्चे को शारीरिक प्रॉब्लम हो सकती है क्योंकि बच्चे इतने छोटे होते हैं कि कुछ बोल नहीं पाते ऐसे में वह रोने लगता हैं। कई रिसर्च में यह बात सामने भी आई है कि अस्थमा के कारण भी बच्चे देर रात तक उठकर रोने लगते हैं।(स्किन में दिखें ये बदलाव तो आपको है स्किन कैंसर का ये घातक रुप, जानें इसके लक्षण और बचाव)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
india-tv-counting-day-contest
modi-on-india-tv