1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. इन 4 बड़े कारणों से आप हो जाते हैं मोटापे का शिकार, ऐसे पाएं हमेशा के लिए निजात

इन 4 बड़े कारणों से आप हो जाते हैं मोटापे का शिकार, ऐसे पाएं हमेशा के लिए निजात

कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है कि वजन कंट्रोल से बाहर हो जाता है। हमे समझ नहीं आता है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। जबकि आप अधिक मात्रा में पौष्टिक आहार और एक्सरसाइज भी कर रहे हैं। जानिए किन वजहों से वजन बढ़ता है। साथ ही जानें कैसे इससे पाएं निजात।

shivani singh shivani singh
Published on: September 07, 2018 10:06 IST
Obesity- India TV
Obesity

हेल्थ डेस्क: खराब लाइफस्टाइल और गलत खानपान मोटापा बढ़ने का मुख्य कारण है। आज के समय में हर दूसरा व्यक्ति मोटापे से परेशान है। जिससे निजात पाने के लिए कई तरह के उपाय अपनाते है। लेकिन कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है कि वजन कंट्रोल से बाहर हो जाता है। हमे समझ नहीं आता है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। जबकि आप अधिक मात्रा में पौष्टिक आहार और एक्सरसाइज भी कर रहे हैं। अगर आपके साथ ही ऐसा होता हैं तो हम आपको बताते है कि किन वजहों से वजन बढ़ता है। साथ ही जानें कैसे इससे पाएं निजात।

पाचन तंत्र की समस्या

अगर आपको पाचन संबंधी समस्या है, तो इस कारण भी मोटापा बढ़ सकता है। पाचन संबंधी समस्या के कारण आंत में कोई न कोई रोग हो सकता है। इसी के कारण वजन भी बढ़ने लगता है। इसका मुख्य कारण शरीर में पानी की कमी, पोषक तत्वों की कमी आदि के कारण होता है। (पीरियड्स के समय स्विमिंग करना है सहीं, बस ध्यान रखें ये बातें नहीं तो हो सकती है इंफेक्शन का शिकार)

ऐसे बचें
पाचन संबधी समस्याओं से बचने के लिए अधिक मात्रा में पानी पिएं। ऐसी चीजों का सेवन करें जिसमें भरपूर मात्रा में  प्रोबॉयोटिक्‍स और फाइबर पाया जाता हो।

Depression

Depression

डिप्रेशन
मोटापे बनने का मुख्य कारण डिप्रेशन यानी कि अवसाद है। कई लोग अवसाद से निजात पाने के लिए दवाओं का सहारा लेते है। इन दवाओं के कारण भी आपका वजन 5-7 किलो बढ़ जाता है। इसी के उल्टा अगर आप डिप्रेशन की जवा न लेगे तो भी आपका वजन बढ़ेगा। (लगातार 4 दिन करें इस ड्रिंक का सेवन और पाएं 4 किलो वजन के साथ कई इंच Waist से छुटकारा )

अमेरिकी जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्‍थ में छपी अध्ययन के अनुसार, 'उदास और तन्‍हा रहने वाले लोगों का वजन अन्‍य लोगों के मुकाबले तेजी से बढ़ता है। अवसादग्रस्‍त व्‍यक्ति उच्‍च कैलोरी फूड का अधिक सेवन करते हैं और साथ ही व्‍यायाम के प्रति भी उनमें अरुचि देखी जाती है।'

ऐसे करें बचाव
डॉक्टरो से सलाह लें और उनकी मदद से कम से कम दवाओं पर डिपेंड रहें। इसके अलावा दोस्तों या अपने फैमिली के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं। एक्सरसाइज करें। जिससे आपको लाभ मिलेगा।

कहां ये सिंड्रोम तो नहीं है!
कुशिंग सिंड्रोम अधिक वजन से रक्‍तचाप, ऑस्टियोपोरोसिस और स्किन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। इसके कारण स्किन में स्क्रेच मार्क्स या फिर पेट की निचली मांसपेशियों में सिल्वर या पर्पल स्क्रेच मार्क्स पड़ जाते है। इसका मतलब है कि आपका शरीर प्राप्‍त पोषक तत्‍वों को सही प्रकार से इस्‍तेमाल नहीं कर पा रहा है। यह कोरटिसोल-प्रोड्यूसिंग ट्यूमर के कारण होता है। हालांकि यह सिंड्रोम दस लाख में केवल 15 व्‍यक्तियों में ही होता है।  

ऐसे करें बचाव
अगर आप बिल्कुल फिट है लेकिन आपका वजन बढ़ रहा है तो आप मेडिकल टेस्ट करा लें। इससे आपकी बॉडी में कोरटिसोल का लेवल पता चल जाएगा। जिससे आसनी से वजन कंट्रोल करने में  हेल्प मिलेगी।

पोषक की कमी

पोषक की कमी

पोषण की कमी
कई बार होता ह कि शरीर में पोषण की कमी के कारम भी मोटापा  बढ़ने लगता है। यानी कि हमारा शरीर सिर्फ फूल जाता है जिसमें ताकत बहुत ही कम होती है। शरीर में आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन डी की कमी होती है। तो हमारा मेटाबॉलिज्म कम जाता है। साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कमजोर हो जाती है। जिसके कारण ये समस्या होती है।

करें ये काम
इस पोषण तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए अधिक मात्रा में दूध पीएं। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है। इसके अलावा बादाम, हरी सब्जियां, ड्राई फूट्स, रेड मीट का सेवन करना मददगार साबित हो सकता है।

Overweight

Overweight

बढ़ती उम्र
बढ़ती उम्र के कारण भी वजन बढ़ जाता है क्योकि हम ज्यादा कैलोरी बर्न नहीं कर सकते है। जितना कि युवास्था में कर लेते है। ज्यादा उम्र में अधिक एक्सरसाइज और कम खाना भी हमारे फैट बढ़ने का मुख्य कारण है।

करें ये काम
जब भी आप किसी चीज का सेवन करें तो इस बात का ध्यान रखें कि उशमें अधिक फैट प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट न हो। जहां प्रोटीन कैलोरी खर्च करने में मदद करता है। वहीं कार्बोहाइड्रेट धीरे-धीरे पचता है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment