1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. 'सुपर 30' के आनंद कुमार जूझ रहे हैं ब्रेन ट्यूमर से, जानें इस बीमारी के बारें में सबकुछ

'सुपर 30' के आनंद कुमार जूझ रहे हैं ब्रेन ट्यूमर से, जानें इस बीमारी के बारें में सबकुछ

'सुपर 30' के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार ने ANI को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया है कि वो ब्रेन ट्यूमर (एकॉस्टिक न्यूरोमा) से जूझ रहे हैं। जानें इस बीमारी के बारें में सबकुछ।

shivani singh shivani singh
Published on: July 11, 2019 19:13 IST
 anand kumar - India TV
 anand kumar

Super 30: ऋतिक रोशन स्टारर फिल्म 'सुपर 30' 12 जुलाई को रिलीज होने वाली है।  जो कि पटना में रहने वाले गणितज्ञ आनंद कुमार पर आधारित है। लेकिन फिल्म की रिलीज से पहले आनंद कुमार से जुड़ी बुरी खबर आईं है  'सुपर 30' के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार ने ANI को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया है कि वो ब्रेन ट्यूमर (एकॉस्टिक न्यूरोमा) से जूझ रहे हैं।

इंटरव्यू में आनंद कुमार ने बताय की कैसे उन्हें  कुछ समय पहले सुनने में समस्या होती थी और अधिक चेकअप करने के बाद उन्हें पता चला की वो 80 से 90 प्रतिशत सुनने की योग्यता खो चुके थे, ट्रीटमेंट से भी खास फर्क नहीं पड़ा। फिर साल 2014 में वह दिल्ली के राम मनोहर लोहिआ अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे थे तब उन्हें डॉक्टर्स द्वारा पता लगा की उन्हें ब्रेन ट्यूमर है।

super 20 anand kumar

super 20 anand kumar

उन्होंने यह भी बताया की उनके हर ऑपरेशन के साथ उनपर खतरा और बढ़ता जा रहा है कैसे उनके ट्यूमर का असर उनकी अन्य इन्द्रियों पर भी हो सकता है। आनंद कुमार ने यह भी बतया कि 2014 के बैच के उनके छात्रों को उनकी यह बीमारी क बारे में पता था। आनंद कुमार ने यह भी बताया कि उनके पास जिंदगी के बस 5 साल बचे हैं।   

brain tumor acoustic neuroma

brain tumor acoustic neuroma

क्या है ब्रेन ट्यूमर (एकॉस्टिक न्यूरोमा)

एकॉस्टिक न्यूरोमा, जिसे वेस्टिबुलर स्कवान्नोमा के नाम से भी जाना जाता है। यह एक कैंसरमुक्त और आमतौर पर धीमी गति से बढ़ने वाला ट्यूमर है जो वेस्टिबुलर तंत्रिका पर विकसित होता है जो आपके कान से आपके मस्तिष्क तक जाता है। इस तंत्रिका की शाखाएं आपके संतुलन और सुनने की क्षमता को प्रभावित करती हैं। इसके साथ ही एकॉस्टिक न्यूरोमा से दबाव पड़ता है जो सुनने की क्षमता में कमी का कारण बनता है। इसके अलावा कान का बजना और अस्थिरता का कारण बन सकता है।

एकॉस्टिक न्यूरोमा आमतौर पर इस तंत्रिका को कवर करने वाली स्कवान्न सेल्‍स पर विकसित होती है और धीरे-धीरे बढ़ता है या बिल्कुल भी नहीं बढ़ता। ऐसा बहुत कम होता है जब यह बहुत तेजी से बढ़ता है और मस्तिष्क के खिलाफ दबाव बनाने और महत्वपूर्ण कार्यों में हस्तक्षेप करने के लिए बड़ा कारण हो सकता है।

ब्रेन ट्यूमर (एकॉस्टिक न्यूरोमा) के लक्षण

  • सुनने की क्षमता में कमी आना
  • बैलेंस में समस्या होना।
  • चेहरे का सुन्न हो जाना
  • प्रभावित जगह की मांसपेशियों में कमजोरी
  • प्रभावित कान में हमेशा कुछ बजने की आवाज आना
  • सिर चकराना

कब दिखाए डॉक्टर को
जब आपको एक कान से सुनने में समस्या हो या फिर आपके कान का बजना शुर हो जाए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

ब्रेन ट्यूमर (एकॉस्टिक न्यूरोमा) का इलाज
इसे तीन तरीकों से सही किया जा सकता है।

  • ठीक ढंग से देखभाल
  • सर्जरी
  • रिएशन थेरेपी

ये भी पढ़ें-

बालिका वधु की 'आनंदी' अविका गौर ऐसे हुई फैट से फिट, जानें डाइट प्लान और वर्कआउट

Best Foods For Breakfast: ब्रेकफास्ट में करें इन 7 बेस्ट फूड्स का सेवन, फिर देखें कैसे रहेंगी बीमारियां कोसो दूर

राम कपूर ने शेयर की अपनी वेट लॉस स्टोरी, फोटो वायरल

 

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment